MP में हुई नृशंसता पर बरसे राहुल गांधी, वीडियो ट्वीट कर बोले, अनुच्छेद 15 व 25 भी बेच दिए

देश के विभिन्न राज्यों में सामाजिक सौहार्द बिगाड़ने की घटनाओं पर राहुल गांधी का तीखा हमला, केंद्र सरकार से पूछा, संविधान के अनुच्छेद 15 व 25 भी बेच दिए?

Updated: Aug 30, 2021, 02:07 PM IST

MP में हुई नृशंसता पर बरसे राहुल गांधी, वीडियो ट्वीट कर बोले, अनुच्छेद 15 व 25 भी बेच दिए

नई दिल्ली। देश के विभिन्न राज्यों में हो रहे इंसानी क्रूरता की घटनाओं को लेकर कांग्रेस राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर तीखा हमला किया है। राहुल गांधी ने मध्य प्रदेश के नीमच, इंदौर की नृशंस घटना के अलावा दिल्ली में पत्रकार के साथ हुई अभद्रता का एक वीडियो क्लिप साझा किया है। राहुल ने इन घटनाओं को लेकर लिखा है कि संविधान के अनुच्छेद 15 व 25 भी बेच दिए?

क्या कहता है अनुच्छेद 15 व 25

संविधान के अनुच्छेद 15 में उल्लेख है कि भारत में किसी भी व्यक्ति के साथ धर्म, जाति, नस्ल, लिंग या जन्म स्थान के आधार पर भेदभाव नहीं कि जा सकती है। वहीं संविधान का अनुच्छेद 25 भारत के सभी नागरिकों को धर्म और कर्म की स्वतंत्रता की गारंटी देता है। 

 

दरअसल, देश के विभिन्न हिस्सों खासकर मध्य प्रदेश में धर्मांधता व इंसानी क्रूरता की दुर्भाग्यपूर्ण घटनाएं हो रहीं हैं। यहां उज्जैन में एक मुस्लिम कबाड़ीवाले से भीड़ ने जबरन जय श्री राम के नारे लगवाए, इंदौर में एक चूडिवाले को सिर्फ इसलिए बेरहमी से पीटा गया क्योंकि वह मुस्लिम था। नीमच में एक आदिवासी युवक को चोरी के शक में वाहन से बांधकर घसीटा गया जिससे उसकी मौत हो गई। देवास और रीवा से भी मानवता को शर्मसार करने वाली घटनाएं सामने आईं।

यह भी पढ़ें: बजरंग दल ने जलाई कामसूत्र ग्रंथ की प्रतियां, राधा-कृष्ण के अंतरंग चित्रण का आरोप, बुकस्टोर जलाने की धमकी

उधर दिल्ली में एक पत्रकार अनमोल प्रीतम को भीड़ द्वारा जबरन जय श्री राम बोलने का दबाव डालते देखा गया। धर्म के नाम पर अधर्म, इंसानी क्रूरता और सामाजिक सौहार्द बिगाड़ने वाले चंद लोग संवैधानिक मूल्यों और नागरिक अधिकारों को तहस-नहस करने पर आतुर हैं। इन घटनाओं की देशभर में तीखी आलोचना हो रही है।