लखीमपुर मामले में सवाल पूछने पर भड़के गृह राज्य मंत्री टेनी, पत्रकारों से की गाली गलौज

गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी का वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें वे पत्रकारों को आपत्तिजनक शब्द बोलने के साथ साथ कैमरा बंद करने के लिए भी धमका रहे हैं

Updated: Dec 15, 2021, 04:54 PM IST

लखीमपुर मामले में सवाल पूछने पर भड़के गृह राज्य मंत्री टेनी, पत्रकारों से की गाली गलौज

नई दिल्ली। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी की बर्खास्तगी की मांग के बीच गृह राज्य मंत्री पत्रकारों से बदसलूकी करते और धमकी देते नज़र आए हैं। अजय मिश्रा टेनी का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें वे पत्रकारों के साथ गाली गलौज करने के साथ साथ उन्हें धमकी देते नज़र आ रहे हैं। 

लखीमपुर मामले में एसआईटी जांच में हुए खुलासे को लेकर जब अजय मिश्रा टेनी से एक पत्रकार ने सवाल किया, तब मंत्री जी आग बबूला हो गए। सवाल का जवाब देने के बजाय अजय मिश्रा ने पत्रकार के साथ ही गाली गलौज करना और उसे धमकाना शुरू कर दिया। 

एक हिंदी न्यूज़ चैनल के रिपोर्टर ने गृह राज्य मंत्री से उनके बेटे आशीष मिश्रा पर लगने वाली नई धाराओं पर जवाब मांगा था। इतना सुनते ही मंत्री जी का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया और उन्होंने पत्रकार को तुरंत ही फटकारते हुए कहा कि जो काम की बात है वो करो या धाराओं के बारे में बात करोगे? 

मंत्री के इतना कहने पर जब पत्रकार ने फिर से अपने सवाल को दोहराया तब अजय मिश्रा ने पत्रकार से ऊंची आवाज में बात करनी शुरू कर दी। अजय मिश्रा ने पत्रकार से कहा कि बेवकूफी भरे सवाल मत करो। दिमाग खराब है क्या बे? इतना कहने पर जब मंत्री जी की नज़र कैमरे पर पड़ी, तब उन्होंने जबरन कैमरा भी बंद करवा दिया। हालांकि यह सारा घटनाक्रम रिकॉर्ड हो गया और वीडियो जल्द ही सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। 

एक अन्य वीडियो भी सामने आया है, जिसमें अजय मिश्रा पत्रकारों से कह रहे हैं कि मीडिया वालों के चलते ही उनका निर्दोष बेटा आज सलाखों के पीछे है। इस दौरान अजय मिश्रा मीडिया को भद्दी भद्दी गालियां देते नज़र आ रहे हैं।

दरअसल लखीमपुर नरसंहार मामले की जांच कर रही एसआईटी की रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि तीन अक्टूबर को किसानों के ऊपर जानबूझकर गाड़ी चढ़ाई गई थी। यह सब कुछ एक सुनियोजित साजिश के तहत किया गया था। इस मामले में अजय मिश्रा टेनी का बेटा आशीष मिश्रा मुख्य आरोपी है। एसआईटी के खुलासे के बाद आशीष मिश्रा सहित बाकी सभी आरोपियों पर अब हत्या का मुकदमा चलने वाला है। ऐसे में विपक्ष ने भी इस मामले में मोदी सरकार को घेरे शुरू कर दिया है। कांग्रेस पार्टी लगातार अजय मिश्रा टेनी की बर्खास्तगी की मांग कर रही है। इस संबंध में राहुल गांधी ने आज लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव भी दिया है।