खूंखार डकैत गौरी यादव ढेर, चित्रकूट में STF ने इनामी कुख्यात डकैत को मार गिराया

उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में 60 से ज्यादा मामलों का आरोपी था डकैत, यूपी पुलिस ने 5 लाख और मप्र पुलिस ने रखा था 50 हजार का इनाम, डकैत के पास से AK-47 बंदूक भी बरामद

Updated: Oct 30, 2021, 12:55 PM IST

खूंखार डकैत गौरी यादव ढेर, चित्रकूट में STF ने इनामी कुख्यात डकैत को मार गिराया
Photo courtesy: Patrika

चित्रकूट। पुलिस ने खूंखार डकैत गौरी यादव को मुठभेड़ में मार गिराया है। यूपी पुलिस ने शनिवार तड़के साढ़े पांच लाख के इनामी डकैत गौरी यादव ढेर कर दिया। डकैत के पास से AK-47 बंदूक भी बरामद हुई है। डकैत गौरी सिंह ने चित्रकूट बीहड़ में शरण ले रखी थी। उत्तर प्रदेश और मध्यप्रदेश पुलिस ने कुल साढ़े पांच लाख रुपए का इनाम रखा था। डकैत और  पुलिस की मुठभेड़  बहिलपुरवा में हुई थी।

डकैत पर उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में सरकारी काम में बाधा डालने, हत्या, फिरौती, अपहरण, लूट समेत 60 से ज्यादा मामले दर्ज थे। यह 2005 से जुर्म की दुनिया में एक्टिव था, वह चित्रकूट जिले के बेलहरी गांव का रहने वाला था। जिसकी तलाश में यूपी और एमपी की पुलिस टीमें लंबे वक्त से कर रही थीं। चित्रकूट में STF ने बड़ी कार्रवाई करते हुए गौरी यादव को मुठभेड़ के दौरान ढेर कर दिया।  

खूंखार डकैत गौरी यादव ने बुंदेलखड़ में लोगों का जीना दूभर कर रखा था। वह जंगलों में पिछले 20 साल से दहशत का पर्याय बन गया था। उसकी गिनती ददुआ गैंग के समकक्ष होने लगी थी। पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि गौरी यादव चित्रकूट में छिपा है। जिसके बाद STF ने डकैत गौरी यादव गैंग पर हमला बोल दिया। यह एनकाउंटर माधव बांध के पास हुआ है।  2009 में पुलिस ने गौरी यादव को गिरफ्तार किया था, लेकिन वह जमानत पर बाहर आ गया था। तब से उसने इलाके में आतंक मचा रखा था। अब पुलिस ने इसे मार गिराया है। इसकी पुष्टि यूपी  पुलिस के आला अधिकारियों ने कर दी है।