2023 तक भारत में भी हाइड्रोजन से चलेंगी ट्रेनें, रेल मंत्री वैष्णव का बड़ा ऐलान

केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा है कि भारत अगले स्वतंत्रता दिवस पर हाइड्रोजन से चलने वाली पहली ट्रेन शुरू करेगा।

Updated: Sep 17, 2022, 04:18 PM IST

2023 तक भारत में भी हाइड्रोजन से चलेंगी ट्रेनें, रेल मंत्री वैष्णव का बड़ा ऐलान

नई दिल्ली। भारतीय रेल यात्रियों के लिए बड़ी खुशखबरी सामने आई है। अगले साल से भारत में भी हाईटेक हाइड्रोजन ट्रेनों का परिचालन शुरू हो जाएगा। केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने इस बात की जानकारी दी है। ऐसा करने वाला दुनिया का दूसरा देश बन जाएगा, जहां पर हाइड्रोजन से चलने वाली ट्रेन चलेगी। फ़िलहाल सिर्फ जर्मनी ने हाइड्रोजन से चलने वाली ट्रेन का ट्रॉयल किया है।

रेल मंत्री वैष्णव शुक्रवार को भुवनेश्वर में एक कार्यक्रम में हिस्सा ले रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि हाइड्रोजन ट्रेनें 2023 के स्वतंत्रता दिवस तक बनकर तैयार हो जाएंगी। बिजली और ईंधन बचाने के उद्देश्य से हाइड्रोजन से चलने वाली ट्रेन पर प्रमुखता से सरकार फोकस कर रही है।  ऐसा करने के बाद भारत दुनिया का दूसरा देश बन जाएगा, जहां पर हाइड्रोजन से चलने वाली ट्रेन चलेगी। 

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा कि मंत्रालय का फोकस सिर्फ इन ट्रेनों के निर्माण पर ही नहीं है। ट्रैक मैनेजमेंट सिस्टम पर भी तेजी से काम किया जा रहा है ताकि सेमी हाईस्पीड वाली ट्रेनें चलाई जा सके। उन्होंने आगे कहा कि स्वदेशी तकनीक के जरिए भारत में ही हाईस्पीड वंदे भारत ट्रेनों का निर्माण किया गया। ये ट्रेनें पिछले दो साल से बिना किसी बड़ी खराबी के चल रही हैं। ऐसी ही और वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेनें आईसीएफ में बनाई जा रही हैं और जल्द ही इनको सेवा में लाया जाएगा। 

बता दें कि अभी केवल जर्मनी में हाइड्रोजन से चलने वाली ट्रेन का ट्रॉयल किया गया है। और वहां पर जल्द ही पैसेंजर ट्रेन चलाने की तैयारी है। इसके लिए 11  पैसेंजर ट्रेन की डिलिवरी भी की गई है।