प्रधानमंत्री के केवड़िया दौरे से पहले दो दर्जन पुलिसकर्मी हुए कोविड पॉज़िटिव

प्रधानमंत्री दो दिनों के दौरे पर 17 प्रोज्क्ट्स का करेंगे उद्घाटन

Updated: Oct 30, 2020, 10:47 AM IST

प्रधानमंत्री के केवड़िया दौरे से पहले दो दर्जन पुलिसकर्मी हुए कोविड पॉज़िटिव

केवड़िया/गुजरात। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बहुप्रतीक्षित केवडिया कॉलोनी दौरे से पहले बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मियों की सेहत चिंता का विषय बन गई है। यहाँ 21 पुलिसकर्मी कोविड पॉज़िटिव पाए गए हैं। पुलिसकर्मियों को ज़रूरी टेस्ट के आधार पर उनमें कोरोना के लक्षण की शिकायत पायी गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 31 अक्तूबर को स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के आसपास नर्मदा नगर के केवडिया कॉलोनी में कई प्रोजेक्ट्स का उद्घाटन करने वाले हैं। पीएम के दौरे के लिए यहाँ तैयारियां ज़ोरों पर हैं और कोविड से बचाव के हर तरह के उपाय भी किए जा रहे हैं। गुरूवार को इसी सिलसिले में हुई जाँच में दो दर्जन सुरक्षाकर्मी कोविड पॉज़िटिव पाए गए हैं। इसके बाद उन्हें क्वारंटीन कर दिया गया है।

मीडिया खबरों के मुताबिक प्रधानमंत्री आज दोपहर केवडिया कॉलोनी पहुँच रहे हैं। रात वो यहीं के सर्किट हाउस में गुज़ारनेवाले हैं। सरकार सरदार वल्लभभाई पटेल की 145वीं जयंती को राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मना रही है। इसी मौक़े पर अनेक कार्यक्रमों के सिलसिले में प्रधानमंत्री केवडिया दौरे पर हैं। 

इस कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण प्रधानमंत्री द्वारा सीप्लेन प्रोजेक्ट के उद्घाटन को ही माना जा रहा है। जो अहमदाबाद के साबरमती रिवरफ्रंट से एकता की मूर्ति तक 45 मिनट में पहुँचा सकती है। सीप्लेन के जरिए तकरीबन 220 किलोमीटर का सफर महज़ 45 मिनट में तय किया जाएगा। प्रधानमंत्री खुद इस परियोजना का शुभारंभ सी प्लेन से यात्रा कर करेंगे। प्रधानमंत्री से पहले अधिकारी सी प्लेन के ज़रिए सुरक्षा का जायज़ा ले रहे हैं। इसके अलावा मोदी यहां 6 किलोमीटर लंबे बने जेट्टी का भी उद्घाटन करेंगे, जिससे स्टैच्यू ऑफ यूनिटी विज़िट करनेवाले पर्यटक गरुणेश्वर डैम तक पहुँचकर सीप्लेन में बैठ सकेंगे।

राज्य सरकार की तरफ़ से ये बताया गया है कि प्रधानमंत्री यहां 17 प्रोजेक्ट्स का उद्घाटन करेंगे। जिसमें एकता की मूर्ति के लिए एक प्रशासनिक भवन, टूरिज़्म गवर्नेंस  अथॉरिटी, नया गोरा ब्रिज आदि शामिल हैं।

प्रधानमंत्री मोदी का यह पसंदीदा प्रोजेक्ट माना जाता है। स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के बनने के बाद से अबतक संभवत: यह उनका पाँचवा दौरा है। नर्मदा नदी की घाटियों में बना यह एक सुंदर हरियाली भरा इलाक़ा है। हालांकि नर्मदा पर डैम बनने के वजह से इलाक़े में नदी की राह अवरुद्ध हुई है और शूलपाणि के जंगल का बहुत सारा हिस्सा इसमें डूब गया है। लेकिन सौंदर्य के लिहाज़ से यह इलाक़ा एक बेहतर टूरिस्ट स्पॉट माना जा सकता है।