वाराणसी पुलिस की वसूली लिस्ट वायरल, गांजा-भांग से लेकर शराब तक की दुकानों से उगाही

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही रेट लिस्ट में अवैध वसूली के दाम तय किए गए हैं, आला अधिकारियों ने दिया जांच का आदेश, पुलिस महकमे में हड़कंप

Updated: Nov 25, 2020, 01:25 AM IST

वाराणसी पुलिस की वसूली लिस्ट वायरल, गांजा-भांग से लेकर शराब तक की दुकानों से उगाही
Photo Courtesy: Twitter

वाराणसी। उत्तर प्रदेश के चंदौली ज़िले में मुगलसराय थाने की अवैध वसूली की लिस्ट वायरल होने का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि अब वाराणसी से जुड़ा भी ऐसा ही एक मामला सुर्खियों में है। उत्तर प्रदेश के वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर ने खुद इस लिस्ट को ट्वीटर पर पोस्ट कर जांच की मांग की है। रेट लिस्ट सामने आने के बाद वाराणसी पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है।

आईपीएस अमिताभ ठाकुर ने इस रेट लिस्ट को साझा करते हुए लिखा, 'विश्वस्त सूत्रों के अनुसार यह वसूली सूची चितईपुर पुलिस चौकी, थाना लंका की बताई गयी है जो वहां नियुक्त द्विवेदी नामक पुलिसकर्मी द्वारा वसूली करने की बात बताई गयी है। कृपया सत्यापित कर उचित कार्यवाई कराएं।' 

अमिताभ ठाकुर ने इस पोस्ट में आइजी रेंज वाराणसी, एडीजी जोन वाराणसी और यूपी पुलिस के ट्विटर हैंडल को भी टैग किया है। इस ट्वीट के जवाब में वाराणसी पुलिस ने लिखा है कि -'उक्त प्रकरण में जांच एवं आवश्यक कार्यवाही हेतु पुलिस अधीक्षक अपराध को प्रेषित किया गया है।'

वायरल हो रही इस लिस्ट में भांग की दुकान पर बिकने वाले गांजा, देर तक खुलने वाली शराब की दुकान, शराब की बोतल से रिफीलिंग, गैस सिलेंडर से रिफीलिंग करने वालों समेत अलग-अलग ढंग की वसूली के दाम तय किए गए हैं। इस लिस्ट में सभी के नाम के आगे रेट भी लिखा गया है। 

रेट लिस्ट में चितईपुर इलाके में कुल 15 जगहों से वसूली किए जाने का जिक्र है। इसमें चितईपुर चौराहे पर भांग की दुकान पर गांजा बेचने वाले से 5000 रुपये, 11 स्थानों पर शराब की दुकानों से वसूली और तीन जगह गैस रिफिलिंग करने वालों से वसूली शामिल है। इस लिस्ट के अनुसार चौकी की कुल वसूली 24,500 रुपये बताई गयी है। 

बता दें कि अभी कुछ दिनों पहले ही चंदौली के मुगलसराय थाने की वसूली लिस्ट वायरल हुई थी। उसे भी आईपीएस अमिताभ ठाकुर ने ही ट्वीट करके अधिकारियों को कार्रवाई करने को कहा था। जांच के बाद मामला सही पाया गया था और थानेदार पर कार्रवाई करते हुए लखनऊ तलब कर लिया गया था।