आखिर मिल ही गया ऋषभ पंत को नया घर, सहवाग का किया शुक्रिया

ऋषभ पंत ने कल ट्वीट किया था कि उनके घर वाले नया घर खरीदने की ज़िद कर रहे हैं, इस पर सहवाग ने पंत को housing.com पर घर ढूंढने के लिए कहा था

Updated: Jan 29, 2021, 09:01 PM IST

आखिर मिल ही गया ऋषभ पंत को नया घर, सहवाग का किया शुक्रिया
Photo Courtesy : Zee News

नई दिल्ली। ऑस्ट्रेलिया सीरीज में भारतीय टीम की जीत के हीरो रहे ऋषभ पंत को आखिरकार अपना घर मिल ही गया। पंत को घर ढूंढने में मदद किसी और ने नहीं बल्कि खुद टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज़ वीरेंद्र सहवाग ने की है। ऋषभ पंत ने इसके लिए सहवाग का शुक्रिया भी अदा किया है। 

ऋषभ पंत ने कहा है कि ' थैंक्स वीरेंद्र सहवाग भैया, मेहनत से बचाने के लिए। राजकुमार राव की तरह घर तो housing.com पर आसानी से मिल गया, अब तो बस इंगलैंड सीरीज जीतने की तैयारी है।' 

दरअसल गुरुवार को ऋषभ पंत ने ट्वीट कर बताया था कि वे जबसे ऑस्ट्रेलिया से आए हैं, उनके घर वाले नया घर लेने के लिए उनके पीछे पड़े हुए हैं। ऋषभ पंत ने ट्वीट कर लोगों से नए घर की तलाश करने के लिए मदद मांगी थी। ऋषभ पंत ने ट्वीट किया था, ' जबसे ऑस्ट्रेलिया से आया हूं, घरवाले पीछे पड़े हैं कि नया घर ले लो अब। गुड़गांव (अब गुरुग्राम) सही रहेगा? और कोई ऑप्शन हो तो बताओ।' 

हालांकि पंत के ट्वीट के ऊपर पहले कॉमेडियन सलोनी गौर ने रिप्लाई किया था कि 'मेरा मिडल क्लास दिमाग तो बस यही सलाह दे सकता है कि अगर दिल्ली एनसीआर में घर लेना तो मेट्रो के पास ही लेना।' लेकिन पंत को इससे भी ज़्यादा दिलचस्प सलाह वीरेंद्र सहवाग ने दी। 

सहवाग ने दी थी पिच पर घर बनाने की सलाह

सहवाग ने पंत को पहले पिच पर ही अपना नया घर बना लेने की सलाह दी थी। सहवाग ने कहा कि ' वैसे तो इंगलैंड के बॉलर्स काफी रूम देंगे, मुझे यकीन है उनके साथ पिच पर अपना घर बना लेगा।' बाकी घरवालों के लिए प्रॉपर्टी के बेस्ट ऑप्शन (बेहतर विकल्प) housing.com पर मौजूद हैं। सहवाग ने housing.com का ऐड शेयर करते हुए कहा कि मुझे कोई बोला कि मनोज वाजपेयी ने भी अपना घर @housing पर ही लिस्ट किया है।' 

अमूमन वीरेंद्र सहवाग ट्विटर पर युवा खिलाड़ियों का उत्साह वर्धन करते रहते हैं। ब्रिस्बेन टेस्ट की समाप्ति के बाद सहवाग ने मैच के हीरो ऋषभ पंत की तारीफ़ करते हुए कहा था कि 'आज से ब्रिस्बेन का नाम पंत नगर।' ट्विटर पर वीरेंद्र सहवाग युवा खिलाड़ियों के साथ मज़ाक करने के साथ साथ उनका मार्गदर्शन भी करते हैं। इतना ही नहीं ज़रूरत पड़ने पर युवा खिलाड़ियों की तरफ से ट्विटर पर बैटिंग भी करने लगते हैं। 

यह भी पढ़ें : आखिर क्यों ब्रिसबेन टेस्ट में इंडियन टीम के लिए खेलना चाहते हैं सहवाग, जानिए

हाल ही में बीजेपी नेता और किसी समय बॉलीवुड में कुमार सानू की नकल करने वाले गायक के तौर पर जाने वाले बाबुल सुप्रियो ने सिडनी टेस्ट में हनुमा विहारी की स्लो बैटिंग की आलोचना की थी। लेकिन बाबुल सुप्रियो के कीबोर्ड ने हनुमा विहारी का गलत नाम (हनुमा बिहारी) टाइप कर दिया था। इस पर दो दिन बाद हनुमा विहारी ने रिप्लाई करते हुए बस इतना लिखा, '*Hanuma Vihari'। इसके बाद पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने युवा क्रिकेटर के समर्थन में लिखा, ' अपना विहारी सब पर भारी।' 

यह भी पढ़ें : बाबुल सुप्रियो ने हनुमा विहारी की आलोचना की तो क्रिकेटर ने कहा बिहारी नहीं विहारी हूं

दरअसल सिडनी टेस्ट की आखरी पारी में हनुमा विहारी ने 161 गेंदों में महज़ 23 रन बनाए थे। अश्विन ने भी 128 गेंदों में महज़ 39 रन बनाए थे। जिसके बाद विहारी की धीमी बल्लेबाज़ी की आलोचना करते हुए बीजेपी नेता बाबुल सुप्रियो ने कहा था, 'सिर्फ सात रन बनाने के लिए 109 गेंद खेलने वाले हनुमा ' बिहारी ' ने न सिर्फ भारत की एक ऐतिहासिक जीत दर्ज करने की संभावनाओं को मार दिया, बल्कि क्रिकेट की भी हत्या कर दी। बाबुल सुप्रियो ने आगे लिखा मैं जानता हूं मुझे क्रिकेट के बारे में कुछ नहीं पता।' 

यह भी पढ़ें : धोनी की जगह वीरेंद्र सहवाग बनने वाले थे सीएसके के कप्तान

जबकि हकीकत इससे परे है, सिडनी टेस्ट को हनुमा विहारी और आर अश्विन दोनों ने क्रीज पर टिके रह कर बचाया था। यह एक हारा हुआ मैच था जिसे दोनों क्रिकेटरों ने बचा लिया। दोनों ही खिलाड़ी चोटिल थे और दर्द से कराह रहे थे। हनुमा को खुद हैमस्ट्रिंग में खिंचाव था। उन्होंने खुद कहा था कि अगर उन्हें चोट नहीं लगी होती तो वे निश्चित तौर पर भारत के लिए मैच जिता कर लाते। ऐसे में हनुमा विहारी की आलोचना करने की सिर्फ दो संभावनाएं थी, पहली ये कि या तो बाबुल सुप्रियो ने मैच नहीं देखा था या फिर सच में क्रिकेट के प्रति उनकी समझ शून्य है।