छत्तीसगढ़ सरकार भी विदेशों से ख़रीदेगी कोरोना वैक्सीन, ग्लोबल टेंडर की तैयारी

वैक्सीन की कमी दूर करने के लिए सरकार बना रही नई रणनीति, विदेशों से कोरोना वैक्सीन खरीदी की तैयारी, टीका मंगवाने के लिए ग्लोबल टेंडर की तैयारी

Updated: May 12, 2021, 05:19 PM IST

छत्तीसगढ़ सरकार भी विदेशों से ख़रीदेगी कोरोना वैक्सीन, ग्लोबल टेंडर की तैयारी
Photo courtesy: Hindustan Times

रायपुर। अन्य प्रदेशों की ही तरह छत्तीसगढ़ में भी कोरोना वैक्सीन की कमी की वजह से वैक्सीनेशन का काम सुचारू रूप से नहीं चल रहा है। 18 साल से ज्यादा के लोगों को वैक्सीनेशन के लिए खासी मशक्कत करनी पड़ रही है। सरकार ने दवा निर्माता कंपनियों को 75 लाख डोज वैक्सीन का आर्डर दिया है। लेकिन वैक्सीन। निर्माता कंपनियां इतने ज्यादा डोज़ के लिे तैयार नहीं हैं। जिसकी वजह से टीकाकरण का काम प्रभावित हो रहा है। अब सरकार विदेशों से कोरोना वैक्सीन मंगाने की तैयारी में है।

स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव का कहना है कि सरकार इसके लिए विश्व स्तर पर टेंडर की प्रक्रिया अपना सकती है। प्रदेश सरकार द्वारा ग्लोबल टेंडर की तैयारी की जा रही है। अगर सब कुछ ठीक रहा तो सरकार विदेशों से कोरोना के टीके मंगवाकर प्रदेश की जनता का टीकाकरण करवा सकती है।

कोरोना वैक्सीन की कमी की वजह से छत्तीसगढ़ समेत देश के अन्य राज्यों में वैक्सीनेशन नाम मात्र के लिए हो रहा है। छत्तीसगढ़ के कई जिलों में महज दिखावे के लिए सीमित मात्रा में लोगों को वैक्सीन का डोज दिया जा रहा है। कई बार तो ऐसी स्थिति निर्मित हो जाती है कि लोग घंटों कतार में टीका लगवाने के लिए खड़े रहते हैं और वैक्सीन खत्म हो जाती है, जिससे उन्हें निराश होकर घर लौटना पड़ता है।

और पढ़ें: छत्तीसगढ़: नहीं थम रहा कोरोना का कहर, DSP आदित्य हीराधर समेत 199 लोगों की कोरोना से मौत

अब इस स्थिति से निपटने के लिए छत्तीसगढ़ सरकार नई रणनीति बना रही है। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव का कहना है कि प्रदेश सरकार विदेशों से भी कोरोना टीका खरीदने के बारे में विचार विमर्श करने में जुटी है। इस बारे में अन्य पड़ोसी प्रदेशों से खरीदी प्रक्रिया समझने के बाद ही विदेशों से कोरोना वैक्सीन खरीदी जाएगी। देश में लगभग हर राज्य वैक्सीन की उपलब्धता सीमित है। जिसकी वजह से कई राज्य विदेश से कोरोना वैक्सीन खरीदने के बारे में विचार कर रहे हैं।

 छत्तीसगढ़ में टीकाकरण के लिए भारत बायोटेक और सीरम इंस्टीट्यूट आफ इंडिया से 75-75 लाख वैक्सीन की आपूर्ति करने के लिए कहा गया है। ये टीके 18 से 44 साल की उम्र के लोगों को लगाए जाएंगे। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव का कहना है कि इस महीने करीब 9 लाख टीके मिलने की आशा है। प्रदेश मे 9 मई तक 18 से 44 वर्ष साल के मध्य के 1 लाख 9 हजार 869 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज मिल चुकी है।

18 से 44 साल के एक लाख लोगों समेत कुल 59 लाख 36 हजार टीके लगाए जा चुके हैं। जिनमें 3 लाख 2 हजार 171 हेल्थ वर्कर्स को, 2 लाख 99 हजार 298 फ्रंटलाइन वर्कर्स को और 45 वर्ष से अधिक उम्र के 43 लाख 31 हजार 751 लोगों का वैक्सीनेशन हो चुका है। वहीं प्रदेश में कोरोना की पाजिटिविटी दर भी लगातार कम होती जा रही है। प्रदेश की पॉजिटिविटी दर 15 प्रतिशत तक पहुंच गई है। बीते 24 घंटों में प्रदेश में 63 हजार 811 कोरोना सैंपल्स की जांच हुई थी। जिसमें से 9 हजार 717 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। बीते 24 घंटों में राज्य में 199 लोगों की मौत हुई थी।