खैरागढ़ MLA देवव्रत सिंह का हार्ट अटैक से निधन, राजपरिवार में दिवाली पर छाया अंधेरा

सीने में दर्द के बाद ले जाया गया अस्पताल, देर रात हार्ट अटैक से निधन, राजकीय सम्मान के साथ होगा देवव्रत सिंह का अंतिम संस्कार, सीएम बघेल ने जताया दुःख

Updated: Nov 04, 2021, 11:10 AM IST

खैरागढ़ MLA देवव्रत सिंह का हार्ट अटैक से निधन, राजपरिवार में दिवाली पर छाया अंधेरा
Photo Courtesy: News18

रायपुर। छत्तीसगढ़ के राजनंदगांव जिले के खैरागढ़ विधानसभा क्षेत्र के लोकप्रिय विधायक देवव्रत सिंह का निधन हो गया है। बताया जा रहा है कि बुधवार और गुरुवार की दरम्यानी रात करीब तीन बजे सिंह को दिल का दौरा पड़ा, जिसके चलते उनकी मृत्यु हो गई। देवव्रत सिंह की मृत्यु से खैरागढ़ राजपरिवार में शोक की लहर दौड़ गई है।

जानकारी के मुताबिक देर रात सीने में दर्द की शिकायत के बाद उन्हें सिविल अस्पताल लाया जा रहा था। हालांकि, रास्ते में ही उन्होंने दम तोड़ दिया। राजनंदगांव सीएमएचओ मिथलेश चौधरी ने देवव्रत सिंह के निधन की पुष्टि की। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने देवव्रत सिंह के निधन पर शोक व्यक्त किया है। 

खैरागढ़ के राजा रहे देवव्रत सिंह का पार्थिव शरीर कमल विलास पैलेस में रखा गया है। आज दोपहर उनकी अंतिम यात्रा निकाली जाएगी। सिंह के मौत की खबर के बाद कमल विलास पैलेस में उनके चाहने वालों की सुबह से भीड़ जुटनी शुरू हो गई है। उनका अंतिम संस्कार पूरे राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा।

बता दें कि खैरागढ़ विधानसभा क्षेत्र से देवव्रत सिंह चार बार विधायक निर्वाचित हुए और एक बार राजनंदगांव सीट से वे सांसद चुनकर लोकसभा भी पहुंचे। देवव्रत सिंह लंबे समय तक कांग्रेस में रहे थे और 2018 विधानसभा चुनाव से पहले ही उन्होंने अजित जोगी की पार्टी जनता कांग्रेस जॉइन की थी। वे जनता कांग्रेस के उन पांच लोगों में शामिल थे जिन्हें जीत मिली थी। पिछले कुछ दिनों से चर्चा थी कि वे एक बार पुनः कांग्रेस में वापसी करने वाले हैं। खैरागढ़ में उनकी छवि एक साफ सुथरे नेता की थी।