जशपुर में तेज रफ्तार कार ने प्रतिमा विसर्जन के जुलूस को रौंदा, एक की मौत, 20 लोग घायल

दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के दौरान हादसा, 20 लोगों को कार ने कुचला, दो लोगों की हालत गंभीर, मुख्यमंत्री ने जताया हादसे पर दुख, दोषियों पर कार्रवाई का दिया भरोसा

Updated: Oct 15, 2021, 07:07 PM IST

जशपुर में तेज रफ्तार कार ने प्रतिमा विसर्जन के जुलूस को रौंदा, एक की मौत, 20 लोग घायल
Photo courtesy: Amar ujala

जशपुर। दशहरे की खुशियां उस वक्त मातम में बदल गई जब एक तेज रफ्तार कार ने दुर्गा प्रतिमा विसर्जन जुलूस को कुचल दिया। इस हादसे में एक श्रद्धालु की मौत हो गई। वहीं  20 से ज्यादा लोगों के  घायल होने की खबर है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस दुर्घटना पर दुख व्यक्त किया है।

 मुख्यमंत्री ने मृतक के परिवार के प्रति शोक संवेदना व्यक्त की है। वही घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना की है। अपने ट्वीट संदेश में उन्होंने दोषियों की तुरंत गिरफ्तारी की जानकारी दी है। उन्होंने लिखा है कि इस हादसे के किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने लिखा है कि हादसे के दोषी पुलिस अधिकारियों पर भी कार्रवाई की गई है। मामले की जांच के आदेश दे दिए गए हैं।

 

शुक्रवार दिन में यह हादसा जशपुर के पत्थलगांव में हुआ, जहां बड़ी संख्या में लोग दुर्गा विसर्जन के लिए जा रहे थे। इसमे बड़ी संख्या में महिलाएं और बच्चे भी मौजूद थे। तभी एक लाल रंग की तेज रफ्तार कार आई औऱ कई लोगों को रौंदते हुए निकल गई। इस घटना में 21 साल के एक युवक की मौत हो गई। 20 से ज्यादा लोग घायल है। दो लोगों की हालत गंभीर है। घायलों को इलाज के लिए स्थानीय अस्पतालों में भर्ती करवाया गया है। भीड़ में से कुछ लोगों ने कार का पीछा किया और ड्राइवर को पकड़ लिया। गुस्साए लोगों ने ड्राइवर की पिटाई की और कार को भी नुकसान पहुंचाया। कार से गांजा की तस्करी की जा रही थी।

घटना के बाद गुस्साए लोगों ने पत्थलगांव थाने का घेराव कर चक्का जाम कर दिया। गुमला-कटनी नेशनल हाइवे पर मृतक का शव रख चक्काजाम की वजह से दोनों और वाहनों की लंबी कतारें लग गईं। लोगों का आरोप है कि गांजा तस्करी में इलाके के पुलिसकर्मियों की मिली भगत थी। अब मुख्यमंत्री ने ड्राइवर समेत आरोपी पुलिसकर्मियों पर भी कार्रवाई का आदेश दिया है।