खुलते ही शेयर बाज़ार में जबर्दस्त गिरावट, सेंसेक्स 1000 तो निफ़्टी में 250 प्वाइंट का नुकसान 

निफ्टी में लिस्टेड 50 कंपनियों में से 49 के शेयर में गिरावट दर्ज, आज आने वाले महंगाई के आंकड़ों से सहमा बाज़ार, रुपये में भी रिकॉर्ड गिरावट दर्ज, डॉलर के मुकाबले 77.55 पर पहुंचा रुपया  

Publish: May 12, 2022, 11:51 AM IST

खुलते ही शेयर बाज़ार में जबर्दस्त गिरावट, सेंसेक्स 1000 तो निफ़्टी में 250 प्वाइंट का नुकसान 

नई दिल्ली। 
घरेलू शेयर बाज़ार में गुरुवार, 12 मई को खुलते ही तेज गिरावट दर्ज की गई। शुरूआती कारोबार में ही बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सेंसेक्स 1000 प्वॉइंट तक गिर गया वहीं, निफ्टी को भी 250 अंकों का बड़ा नुकसान हुआ है। शुरूआती सत्र में ही शेयर बाज़ार में तेज गिरावट से कोहराम मच गया। चौतरफा बिकवाली से सेंसेक्स में सुबह के वक़्त 1.59 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई। 857.35 प्वॉइंट के साथ शुरूआती सत्र में ही सेंसेक्स 53231 प्वॉइंट के स्तर पर ट्रेंड कर रहा था। वहीं, निफ्टी 266.80 प्वॉइंट गिरकर 15,900 के स्तर पर आ गया था। 

सेंसेक्स में लिस्टेड तमाम बड़ी कंपनियों के शेयर आज खुलते ही लाल निशान पर चल रहे थे। आज गिरावट दर्ज करने वाले प्रमुख शेयर में अल्ट्राटेक सीमेंट, टाटा स्टील, बजाज फाइनेंस, एम एंड एम, इंडसइंड बैंक, एचडीएफसी बैंक, बजाज फिनसर्व और लार्सन ऐंड टुब्रो जैसी बड़ी कंपनियों के शेयर शामिल हैं। जबकि निफ्टी में पंजाब नेशनल बैंक, इंडियन ओवरसीज़ बैंक और पंजाब व सिंध बैंक के शेयर को सबसे अधिक नुकसान हुआ है। निफ्टी में मेटल, फाइनैंस और ऑटो कंपनियों के शेयर में 2-2 फीसदी तक की गिरावट आ चुकी थी। 

शेयर बाजार के विशेषज्ञों का मानना है कि आज महंगाई के आंकड़े आने वाले हैं और इसमें जोरदार बढ़ोत्तरी होने के डर से ही घरेलू शेयर बाज़ार में इतनी तेज गिरावट दर्ज की गई है। हालाँकि पिछले 5 दिनों से शेयर बाज़ार में लाल निशान छाया हुआ है लेकिन उसमे आज बाज़ार के खुलते ही हड़कंप मच गया। गुरुवार को शुरूआती सत्र में निफ्टी में लिस्टेड 50 कंपनियों में से 49 के शेयर में गिरावट दर्ज की गई। इन सभी कंपनियों के शेयर लाल निशान में कारोबार कर रहे थे। निफ्टी में एकमात्र ONGC का शेयर हरे निशान में दिखाई दे रहा था। निफ्टी में लिस्टेड बजाज फाइनेंस और अडानी पोर्ट्स के शेयर में बड़ी गिरावट देखने को मिल रही थी। 

गुरुवार को एक बार फिर रूपया रिकॉर्ड निचले स्तर पर पहुंच गया। इससे पहले मंगलवार को इसमें ऐतिहासिक गिरावट दर्ज की गई थी। सुबह के शुरूआती कारोबार में ही डॉलर के मुकाबले रुपये में 30 पैसे की गिरावट आई है और एक डॉलर के मुकाबले में रूपया 77.55 पर पहुंच गया है। आज आने वाले महंगाई के आंकड़े, अमेरिकी मुद्रास्फीति के आंकड़े और कच्चे तेल के दाम में उछाल से निवेशक आशंकित है और बाज़ार से दुरी बनाये हुए हैं। माना जा रहा है कि इसी कारण से शेयर बाज़ार खुलते ही धड़ाम से गिर गया है।