Coronavirus Updates: दुनिया में मृतकों की संख्या 9 लाख के करीब

Corona Effect: स्कूल-कॉलेज में व्यवधान से सदी भर में 1.5 प्रतिशत सिकुड़ सकती है अर्थव्यस्था, रूस में दस लाख के पार हुए मामले

Updated: Sep 08, 2020 05:22 PM IST

Coronavirus Updates: दुनिया में मृतकों की संख्या 9 लाख के करीब
Photo Courtsey: Ommcom news

नई दिल्ली। दुनिया भर में कोरोना वायरस का खतरा विकराल होता जा रहा है। ताजा जानकारी के अनुसार पूरी दुनिया में 8 लाख 90 हजार लोग इस महामारी का शिकार हो चुके हैं। अमेरिका के जॉन हॉपकिंस विश्वविद्यालय ने ये आंकड़े जारी किए हैं।

तकरीबन एक लाख नब्बे हजार मौतों के साथ अमेरिका इस सूची में शीर्ष पर है। अमेरिका के बाद 126,960 की मृतक संख्या के साथ ब्राजील दूसरे और 71,642 मौतों के साथ भारत तीसरे स्थान पर है। मेक्सिको में अब तक 68 हजार और यूके में 42 हजार लोग इस महामारी का शिकार बन चुके हैं। 

कहां क्या हालात हैं

भारत में जुलाई के बाद कोरोना वायरस से मौत का सर्वाधिक आंकड़ा सामने आया है। पिछले 24 घंटो में देश में 1,133 लोगों की जान गई है। हालांकि, मामलों की संख्या में कमी आई है। मामले 90 हजार से घटकर 75 हजार पर आए हैं। इसके पीछे की वजह पहले के मुकाबले कम टेस्टिंग है। 

जापान की अर्थव्यवस्था अनुमान से उलट कहीं ज्यादा सिकुड़ी है। प्राप्त आंकड़ो के अनुसार अप्रैल-जून तिमाही में देश की अर्थव्यवस्था वृद्धि दर में 7.9 फीसदी की कमी आई है। यह पिछले कई दशकों में सर्वाधिक गिरावट है। 

ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इकॉनमिक कॉपरेशन एंड डेवलपमेंच नाम की संस्था ने चेतावनी दी है कि स्कूल-कॉलेज की पढ़ाई में उत्पन्न हुआ व्यवधान स्किल विकास में बाधा बनेगा। इससे इस सदी की वैश्विक आर्थिक वृद्धि में 1.5 फीसदी की कमी आ सकती है। 

फ्रांस में पिछले एक दिन में कोरोना वायरस के 4,023 मामले सामने आए हैं। देश के स्वास्थ्य मंत्री ऑलिवर वेरन ने इसे चिंताजनक बताया है। इसके बाद भी फ्रांस में क्वारंटीन अवधि को 14 दिन से घटाकर 7 दिन करने की बात हो रही है। 

अमेरिका में कोरोना वायरस मृत्यु दर अफ्रीकी-अमेरिकी समुदाय के लोगों में श्वेत जनसंख्या के मुकाबले कहीं अधिक है। विशेषज्ञों का कहना है कि यह तथ्य दिखाता है कि देश में अफ्रीकी-अमेरिकी समुदाय सामाजिक-आर्थिक रूप से बहुत पिछड़ा हुआ है। 

अर्थशास्त्रियों का कहना है कि कोरोना वायरस महामारी से प्रभावित हुई वैश्विक अर्थव्यवस्था अगले साल की पहली तिमाही में कोरोना पूर्व स्तर पर वापस लौट आएगी। उनका मानना है कि कोरोना वायरस का वैक्सीन इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। पहले अनुमान लगाया गया था कि वैश्विक अर्थव्यवस्था अगले साल की दूसरी तिमाही तक वापस पटरी पर लौटेगी। 

रूस में पिछले एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के 5,099 मामले सामने आने पर देश में कुल मामलों की संख्या बढ़कर 10 लाख के पार हो गई है। इस तरह कुल मामलों की संख्या में रुस विश्व में चौथे स्थान पर आ गया है। देश में इस सप्ताह के अंत तक लोगों को कोरोना वायरस वैक्सीन दिए जाने की उम्मीद है। 

यूक्रेन में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस से रिकॉर्ड 57 लोगों की मौत हुई है। पिछला रिकॉर्ड 54 मौतों का था। देश में अब तक कोरोना वायरस के 140,479 मामले सामने आ चुके हैं, वहीं 2,934 लोगों की मौत हो चुकी है। 

इंग्लैंड में बढ़ते जा रहे कोरोना वायरस मामलों के बीच सरकार बाहर इकट्ठा होने वाले लोगों की संख्या पर नियंत्रण करने की योजना बना रही है। अभी 30 लोग मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग नियमों का पालन करते हुए किसी भी सार्वजनिक स्थान पर इकट्ठे हो सकते हैं।