ट्रंप ने छोड़ा व्हाइट हाउस, विदाई से पहले खिड़कियों से देखा नजारा, पत्नी का हाथ थामे आए बाहर

डोनाल्ड ट्रंप अभी-अभी अमेरिका के राष्ट्रपति के तौर पर आखिरी बार व्हाइट हाउस से बाहर आए हैं, फर्स्ट लेडी मेलेनिया ट्रंप भी थीं साथ, जो बाइडेन के शपथग्रहण में नहीं होंगे शामिल

Updated: Jan 20, 2021, 11:30 PM IST

ट्रंप ने छोड़ा व्हाइट हाउस, विदाई से पहले खिड़कियों से देखा नजारा, पत्नी का हाथ थामे आए बाहर
Photo Courtesy: Twitter

वॉशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने व्हाइट हाउस छोड़ दिया है। अब से थोड़ी देर पहले ही ट्रंप की आधिकारिक तौर पर विदाई हुई है। विश्व के सबसे पुराने और शक्तिशाली लोकतंत्र अमेरिका के राष्ट्रपति के रूप में ट्रंप अपने कार्यकाल के आखिरी दिन तैयार होकर खिड़की से बाहर का नजारा देखते नजर आए।

राष्ट्रपति ट्रंप इसके बाद अपनी पत्नी व अमेरिका की फर्स्ट लेडी मिलेनिया ट्रंप के हाथों में हाथ डालकर बाहर निकले व वहां मौजूद लोगों का अभिवादन स्वीकार करने के बाद व्हाइट हाउस को अलविदा कह दिया। इसके बाद ट्रंप राष्ट्रपति के विमान एयर फोर्स वन से आखिरी बार उड़ान भरने के लिए आगे बढ़े। 

यह भी पढ़ें: डोनाल्ड ट्रंप का बतौर राष्ट्रपति आज आखिरी दिन, बाइडेन की आंखों में दिखे आंसू

इसके पहले राष्ट्रपति ट्रंप और फर्स्ट लेडी ने अपना विदाई भाषण दिया और अमेरिका के भविष्य के लिए नए प्रशासन को शुभकामनाएं भी दीं। इस दौरान ट्रंप ने अमेरिकी संसद कैपिटल हिल भवन पर हुई हिंसा की कड़े शब्दों में निंदा की। ट्रंप ने हिंसा को अमेरिकी मूल्यों के खिलाफ बताते हुए कहा कि इससे देश भयभीत है। 

विदाई भाषण में ट्रंप ने चीन और कोरोना का जिक्र भी किया। वह इस दौरान एक-एक करके अपनी कई उपलब्धियां गिनाने से भी नहीं चूके। ट्रंप ने कहा कि हमने चीन पर कई ऐसे टैक्स लगाए जिससे देश को काफी फायदा हुआ। हालांकि कोरोना महामारी ने हमें काफी नुकसान दिया और दूसरी दिशा में सोचने के लिए मजबूर किया। 

यह भी पढ़ें: बाइडेन की टीम में भारतीय मूल के लोगों का बोलबाला, 20 लोगों को सौंपे अहम पद

गौरतलब है कि जो बाइडन आज अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति के तौर पर शपथ लेंगे। उनके साथ ही भारतीय मूल की कमला हैरिस उपराष्ट्रपति पद की शपथ लेंगी। वे अमेरिका की पहली महिला उप-राष्ट्रपति होंगी। इस बार नए राष्ट्रपति का ओहदा संभालने के मौके पर होने वाले कार्यक्रम में हर बार की तरह भीड़ नहीं जुटेगी। अमेरिका में इसे इनॉगरेशन यानी उद्घाटन कार्यक्रम कहते हैं। इस बार यह कार्यक्रम ऑनलाइन रखा गया है। इनॉगरेशन में जो बाइडेन अमेरिका के नए राष्ट्रपति के तौर पर अपना पहला भाषण भी देंगे। खास बात यह है कि बाइडेन के इस एतिहासिक भाषण को भारतीय मूल के विनय रेड्डी ने तैयार किया है, जो एकता और सौहार्द पर आधारित होगा।