भारतीय मूल के ऋषि सुनक होंगे ब्रिटेन के अगले प्रधानमंत्री, 190 सांसदों का मिला समर्थन

ऋषि सुनक ने ब्रिटेन के शीर्ष पद पर कब्जा जमाकर इतिहास रच दिया है। उन्हें 190 से अधिक सांसदों ने समर्थन दिया। वहीं उनकी प्रतिद्वंद्वि पेनी मोर्डंट जरूरी समर्थन हासिल करने में विफल रहीं और इस रेस से बाहर हो गईं।

Updated: Oct 25, 2022, 10:05 AM IST

भारतीय मूल के ऋषि सुनक होंगे ब्रिटेन के अगले प्रधानमंत्री, 190 सांसदों का मिला समर्थन

लंदन। भारतीय मूल के ऋषि सुनक सोमवार को कंजरवेटिव पार्टी के नेता के रूप में चुन लिए गए। इस तरह वह यूनाइटेड किंगडम के शीर्ष पद पर कब्जा जमाने वाले भारतीय मूल के पहले व्यक्ति बन गए हैं। उन्हें 190 से अधिक सांसदों ने समर्थन दिया। वहीं उनकी प्रतिद्वंद्वि पेनी मोर्डंट जरूरी समर्थन हासिल करने में विफल रहीं और इस रेस से बाहर हो गईं।

पेनी मोर्डंट ने एक ट्वीट में घोषणा की कि वह प्रधानमंत्री पद की रेस से बाहर हो रही हैं और सुनक को ब्रिटेन के प्रधानमंत्री के रूप में समर्थन दे रही हैं। पेनी मोर्डंट ने एक ट्वीट में घोषणा की कि वह प्रधानमंत्री पद की रेस से बाहर हो रही हैं और सुनक को ब्रिटेन के प्रधानमंत्री के रूप में समर्थन दे रही हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, किंग चार्ल्स आज रात सेंड्रिंगहम से लंदन लौट रहे हैं। लिज ट्रस आज रात ही उन्हें इस्तीफा सौंपेंगी। इसके कुछ देर बाद किंग चार्ल्स सुनक को PM का अपॉइंटमेंट लेटर सौंपेंगे। बकिंघम पैलेस में महाराजा चार्ल्स तृतीय से मुलाकात के बाद सुनक प्रधानमंत्री के रूप में लंदन स्थित प्रधानमंत्री कार्यालय 10, डाउनिंग स्ट्रीट में कदम रखेंगे। 28 अक्टूबर को सुनक प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे। इसके बाद 29 अक्टूबर को कैबिनेट का ऐलान किया जाएगा।

सुनक ब्रिटेन के पहले अश्वेत प्रधानमंत्री होंगे और प्रधानमंत्री निवास 10 डाउनिंग स्ट्रीट के पहले हिंदू वाशिंदे होंगे। सुनक की जीत उनके राजनीतिक भाग्य में एक उल्लेखनीय बदलाव का प्रतीक है, जो पिछले महीने सत्तारूढ़ पार्टी के सांसदों का समर्थन नहीं मिलने के बाद वे लिज ट्रस से चुनाव हार गए थे। हालांकि, थोड़े ही दिन में कंजरवेटिव पार्टी में ट्रस के नेतृत्व के खिलाफ खुला विद्रोह हो गया, जिसके चलते सिर्फ 45 दिन तक प्रधानमंत्री रहने के बाद उन्होंने पद से इस्तीफा दे दिया था।

सुनक का जन्म ब्रिटेन में हुआ था। भारतीय मूल के उनके पिता यशवीर सेवानिवृत्त डॉक्टर हैं जबकि मां ऊषा सुनक फार्मासिस्ट हैं। सुनक के दादा और दादी भारत से जाकर अफ्रीका में बस गए थे। उसके बाद उनके पिता अफ्रीका से ब्रिटेन चले गए। सुनक के नाना भी पंजाब से तंजानिया गए थे। फिर वहां से वो भी ब्रिटेन चले गए। ब्रिटेन में ही उनके माता-पिता की शादी हुई और वहीं पर सुनक का जन्म हुआ। उन्होंने मशहूर बिजनेसमैन नारायण मूर्ति की बेटी अक्षता मूर्ति के साथ शादी की है। मूर्ति इंफोसिस के संस्थापक रहे हैं। ऋषि और अक्षता की दो बेटियां कृष्णा और अनुष्का हैं।