स्वतंत्रता दिवस के एक दिन पहले ग्वालियर नगर निगम की बिल्डिंग में हादसा, झंडा लगाते हुए 3 निगम कर्मियों की मौत

महाराज बाड़ा इलाके में नगर निगम की पुरानी बिल्डिंग में झंडा लगाते नगर निगम कर्मियों के साथ हादसा, 3 की मौत, 3 गंभीर, नई हाइड्रोलिक लिफ्ट चलाने में ट्रेंड नहीं था ऑपरेटर, कांग्रेस ने मामले की जांच की मांग की

Updated: Aug 15, 2021, 08:21 AM IST

स्वतंत्रता दिवस के एक दिन पहले ग्वालियर नगर निगम की बिल्डिंग में हादसा, झंडा लगाते हुए 3 निगम कर्मियों की मौत
Photo Courtesy: Patrika

ग्वालियर। शहर के एतिहासिक महाराज बाड़े इलाके में हुए एक हादसे में नगर निगम के 3 कर्मचारियों की मौत हो गई। इस दौरान 3 लोगों के घायल होने की भी खबर है। दरअसल शनिवार सुबह पुराने नगर निगम मुख्यालय पर हाइड्रोलिक फायर ब्रिगेड पर चढ़ कर झंडे की रस्सी बदलने का काम किया जा रहा था। तभी हाइड्रोलिक मशीन की गलत बटन दब गई जिसकी वजह से हादसा हो गया। और देखते ही देखते नगर निगम के 3 कर्मचारियों की मौत हो गई है। 3 कर्मचारियों की दर्दनाक मौत मामले की जांच और दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग कांग्रेस ने की है। प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मृतकों के प्रति दुख जताया है और घायलों के जल्दी ठीक होने की कामना की है। उन्होंने सरकार से पूरे मामले की जांच और दोषियों पर सख्त कार्रवाई की मांग की है।  

वहीं ग्वालियर में हुई इस दर्दनाक घटना पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी दुख जताया है। उन्होंने दिवंगत आत्माओं की शांति के लिए प्रार्थना की है।

दरअसल निगम कर्मचारी पुराने नगर निगम मुख्यालय में 15 अगस्त के लिए तिरंगा लगाने के लिए पहुंचे थे। बताया जा रहा है कि जिस हाइड्रोलिक फायर ब्रिगेड की वजह से हादसा हुआ वह नया वाहन था। जिसका गलत बटन दबने की वजह से तीन लोगों की मौत हो गई। स्वतंत्रता दिवस के लिए झंडा लगाने की ड्यूटी में नगर निगम के चौकीदार और दो फायरकर्मी शामिल थे। बताया जा रहा है कि इस घटना में फायर ब्रिगेड का ड्राइवर समेत 3 लोग घायल हो गए है। सभी घायलों को अस्पताल में भर्ती किया गया है। निगम कर्मचारियों की खबर सुनकर नगर निगम के अन्य कर्मचारी मौके पर पहुंचे और जमकर हंगामा किया। उन्होंने अफसरों पर लापरवाही का आरोप लगाया।  कर्मचारियों का कहना है कि इनकी हाईटेक औऱ बड़ी मशीनों पर स्टाफ को बिना ट्रेनिंग के चढ़ाया गया। जबकि इसके लिए ट्रेनिंग की आवश्यकता होती है। 

और पढ़ें: हमें गुलामी के इस प्रतीक से निजात दिलाओ, बीजेपी नेता ने लिखा सिंधिया को पत्र

महाराज बाड़ा पर स्थित पुराने नगर निगम मुख्यालय में हाइड्रॉलिक मशीन का प्लेटफॉर्म करीब 60 फीट ऊंचाई पर था। तभी अचानक प्लेटफॉर्म टूट गया जिससे तीनों लोग गिर गए दो लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं एक ने अस्पताल में दम तोड़ दिया।

और पढ़ें: सात सौ पुलिसकर्मी लगाकर 24 घंटे में पकड़ा रेप आरोपी, जयपुर पुलिस ने कहा यह आसान काम नहीं था

मरने वालों की पहचान नगर निगम के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी विनोद शर्मा, फायरकर्मी कुलदीप डंडोतिया और प्रदीप राजौरिया के रूप में हुई है। दरअसल हर साल की तरह इस साल भी स्वतंत्रता दिवस के मौके पर ग्वालियर की ऐतिहासिक बिल्डिंगों पर झंडा लहराया जाएगा। इसलिए ऊंची बिल्डिंगों पर क्रेन द्वारा झंडा कल के लिए लगाया जा रहा था।