Sajjan Verma: मोहन भागवत राजनीतिक शुचिता पर भी बोलें

पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने संघ प्रमुख मोहन भागवत को पत्र लिखकर कहा विधायकों की खरीद फरोख्त की घटनाएं राजनीतिक मूल्यों में गिरावट की प्रतीक

Updated: Jul 29, 2020 12:26 AM IST

Sajjan Verma: मोहन भागवत राजनीतिक शुचिता पर भी बोलें

पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने संघ प्रमुख मोहन भागवत को एक पत्र लिखा है। उस पत्र में उन्होंने बीजेपी के साथ साथ चुनाव आयोग को भी निशाने पर लिया है। कांग्रेस नेता ने पत्र में लिखा है कि बीजेपी की कार्यशैली से राजनैतिक मूल्यों में गिरावट आई है। सज्जन सिंह वर्मा ने बीजेपी पर गोवा, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश और राजस्थान में विधायकों की खरीद फरोख्त करने और जबरन सत्ता हासिल करने का आरोप लगाया है।

कांग्रेस नेता ने कहा है कि संघ प्रमुख मोहन भागवत अक्सर कई विषयों पर व्याख्यान देते हैं। ऐसे में उन्हें राजनीतिक शुचिता पर भी व्याख्यान देना चाहिए। वहीं सज्जन सिंह वर्मा ने चुनाव आयोग पर भी निशाना साधा है, वे लिखते हैं कि चुनाव आयोग गांधी के तीन बंदरों वाले सिद्धांत को मान लिया है। और पुराने ग्रामोफोन के सिद्धांत (जितनी चाभी भरो) को आत्मसात कर लिया है।

कांग्रेस नेता ने लिखा है कि अब देश की जनता को लगने लगा है कि भारतीय जनता पार्टी को अपनी विचारधारा राजनीति में शुचिता जैसे शब्दों पर विश्वास नहीं रहा। विधायकों की खरीद फरोख्त की घटनाएं राजनैतिक मूल्यों में भयानक गिरावट हैं।

उन्होंने लिखा है कि भारत वासियों को अपने शब्दकोश से राजनीति में शुचिता, राजनैतिक मूल्य, चाल, चरित्र और चेहरा, लोकतांत्रिक संस्कृति की रक्षा जैसे शब्द निकाल देना चाहिए। कांग्रेस नेता ने चुटकी लेते हुए लिखा है कि भागवत जी कृपया आपका एक व्याख्यान इस पर भी आ जाए तो अच्छा होगा।