10 जून से पूरी तरह अनलॉक होगा भोपाल, सिर्फ संडे का कर्फ्यू रहेगा बरकरार

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल को पूरी तरह अनलॉक करने का ऐलान, सभी तरह की दुकानें खुलेंगी, कर्मचारियों के लिए टीका लेना होगा अनिवार्य

Updated: Jun 07, 2021, 08:07 PM IST

10 जून से पूरी तरह अनलॉक होगा भोपाल, सिर्फ संडे का कर्फ्यू रहेगा बरकरार
Photo Courtesy: Freepress Journal

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल, गुरुवार यानी 10 जून से पूरी तरह अनलॉक हो जाएगी। गुरुवार से राजधानी में सभी तरह की दुकानें खोली जा सकेंगी। जिला प्रशासन ने इस संबंध में विस्तृत दिशानिर्देश जारी कर दिया है। साथ ही वीकेंड कर्फ्यू को भी सिर्फ संडे तक सीमित कर दिया गया है। यानी अब शनिवार को भी राजधानी की सारी दुकानें खुलेंगी। लॉकडाउन सिर्फ रविवार को रहेगा। भोपाल के प्रभारी मंत्री विश्वास सारंग ने स्मार्ट सिटी कार्यालय में व्यापारियों के साथ बैठक के बाद यह निर्णय लिया है।

सोमवार को जारी नई गाइडलाइंस के मुताबिक दुकान चलाने वाले सभी दुकानदारों और कर्मचारियों को वैक्सीन लगाना अनिवार्य होगा। बिना वैक्सीन लिए दुकान चलाने पर दुकानें सील करने की कार्रवाई की जाएगी। हालांकि शुरुआत में कुछ दिन की छूट दी जाएगी ताकि उन्हें टीका लगवाने का मौका मिल सके। इसके लिए बुधवार को मार्केट खुलेंगे, लेकिन सिर्फ वैक्सीनेशन प्रोग्राम पर फोकस होगा। वैक्सीनेशन लिए 'टीका लगाओ दुकान खुलवाओ' का नारा दिया गया है।

यह भी पढ़ें: SC की फटकार के बाद केंद्र ने पलटा फैसला, अब 18-44 आयुवर्ग को भी मुफ्त वैक्सीन देने को तैयार

सरकारी गाइडलाइंस के मुताबिक बाजारों में मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य रहेगा। इसके अलावा रोज़ाना रात 8 से सुबह 6 बजे तक शहर में नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा। यानी रात के आठ बजे के बाद दुकानें नहीं खोली जा सकेंगी और अनावश्यक बाहर घूमने पर कार्रवाई की जाएगी। हालांकि, शराब की दुकानों को 11.30 रात तक खोलने की अनुमति होगी। मंत्री विश्वास सारंग ने कहा है कि, 'अनलॉक की प्रक्रिया में आम जनता का भी सहयोग जरूरी है। बिना वजह घरों से लोग बाहर न निकलें।'

भोपाल को अनलॉक करने की प्रक्रिया 1 जून से शुरू की गई थी। जिला प्रशासन ने 15 जून तक के लिए प्रतिबंधों के साथ दुकानें खोलने का आदेश जारी किया था। लेकिन संक्रमण में कमी को देखते हुए अब 10 से ढील दी गई है। स्वास्थ विभाग के मुताबिक भोपाल में पॉजिटिविटी रेट गिरकर 1.7% तक पहुंच गया है।