बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी ने अपनी ही पार्टी पर खड़ा किया सवाल, बोले विंध्य के साथ हो रही उपेक्षा

मैहर विधायक नारायण त्रिपाठी सरकार पर विंध्य को नजरअंदाज करने का आरोप लगाते हुए कहा कि विंध्य की जनता दवा, इंजेक्शन और ऑक्सीजन के लिए परेशान है। सरकार ध्यान नही दे रही है।

Updated: Apr 19, 2021, 05:41 PM IST

बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी ने अपनी ही पार्टी पर खड़ा किया सवाल, बोले विंध्य के साथ हो रही उपेक्षा
Photo courtesy: zee news

सतना। विंध्यप्रदेश बनाए जाने की मांग करने वाले सतना जिले के मैहर विधानसभा सीट से भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी एक बार फिर अपनी ही सरकार की नीयत पर सवाल खड़ा किया हैं। उनका कहना है कि शिवराज सरकार विंध्य की जनता के साथ दुर्व्यवहार कर रही है। इसके साथ ही विधायक नारायण त्रिपाठी ने कहा कि आक्सीजन की कमी से लोगों की मौत हो रही है, सरकार कोई ठोस कदम नहीं उठा रही है।

भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी ने रेमडेसिविर इंजेक्शन के नाम पर सरकार के ऊपर जमकर हमला बोला हैं। विधायक ने कहा है कि प्रदेशभर में रेमडेसिविर इंजेक्शन के लिए हाहाकार मचा हुआ है, लेकिन सरकार कुंभकर्ण नींद में सो रही है। लोगों की चिंता किए बगैर प्रशासनिक अधिकारी अपनी अलग ही चाल में मस्त है।

गौरतलब है कि रेमडेसिविर इंजेक्शन की कमी के चलते लंबे समय से हाहाकार मचा हुआ है।बीते 15 अप्रैल को केंद्र सरकार के द्वारा मध्य प्रदेश के 4 जिलों में इंजेक्शन की खेप भेजी गई थी। जिसे स्टेट प्लेन के द्वारा रीवा भी भेजा गया था। जहां से रीवा और शहडोल संभाग के 7 जिलों में सप्लाई कि जानी थी, मगर रीवा जिला प्रशासन के द्वारा सतना जिले के लिए रेमडेसिविर इंजेक्शन की खेप नहीं भेजी गई इसके चलते विधायक नाराजगी जताई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक विधायक नारायण त्रिपाठी ने उद्योगपतियों पर भी जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि विंध्य में कई उद्योग घराने हैं और शहडोल जिले में ही मीथेन गैस के भंडारण केंद्र है जिससे मुकेश अम्बानी व्यपार भी कर रहे है। विंध्य क्षेत्र में यदि एक भी आदमी की जान आक्सीजन की कमी के  कारण जाती है तो मुकेश अम्बानी के महान बनने पर धिक्कार है। उद्योग पति सावधान हो जाएं विंध्य की उपेक्षा यहां की जनता स्वीकार नहीं करेगी। भाजपा विधायक ने कहा की मुकेश अम्बानी अगर रीवा और शहडोल संभाग के लोगों की मदद नहीं करते हैं तो उन्हें गंभीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे और उनके गैस पाइप लाइन को हम तोड़ने का काम करेंगे।