साध्वी प्रज्ञा का बेतुका दावा, मध्य प्रदेश में नहीं हो रही मॉब लिंचिंग की घटनाएं

साध्वी प्रज्ञा का दावा है कि मध्य प्रदेश में मॉब लिंचिंग की घटनाएं नहीं हो रही हैं, क्योंकि यहां अधिकतर राष्ट्रवादी लोग रहते हैं

Publish: Sep 02, 2021, 09:15 AM IST

साध्वी प्रज्ञा का बेतुका दावा, मध्य प्रदेश में नहीं हो रही मॉब लिंचिंग की घटनाएं

भोपाल। अक्सर अपनी विवादित और बेतुकी बयानबाजी की वजह से चर्चा में रहने वाली भोपाल से बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा ने एक बार फिर बेतुका दावा कर डाला है। बुधवार को साध्वी प्रज्ञा ने बेतुका दावा करते हए कहा कि मध्य प्रदेश में मॉब लिंचिंग जैसी घटनाएं नहीं होती। बीजेपी नेता ने अपने दावे को साबित करने के लिए यह दलील दी कि यहां अधिकतर राष्ट्रवादी लोग रहते हैं। बीजेपी नेता का यह बयान सामने आने के बाद सोशल मीडिया पर साध्वी प्रज्ञा का एक बार फिर विरोध शुरू हो गया है।

दरअसल बुधवार को सांसद साध्वी प्रज्ञा सीहोर पहुंची थीं। यहां पर एक उद्योग विभाग के एक भवन का लोकार्पण होना था। शिवराज सरकार में मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा भी मौजूद थे। कार्यक्रम के बाद जब पत्रकारों ने साध्वी प्रज्ञा से मध्य प्रदेश में घटित हो रही मॉब लिंचिंग की घटनाओं पर प्रतिक्रिया मांगी, तब साध्वी प्रज्ञा ने प्रदेश में घटित हो रही इन घटनाओं को ही खारिज कर दिया। 

साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि प्रदेश में मॉब लिंचिंग की घटनाएं नहीं होती, क्योंकि यहां अधिकतर राष्ट्रवादी लोग रहा करते हैं। इसके अलावा बीजेपी नेता ने दावा किया कि भारत में अफगानिस्तान जैसे हालात इसलिए नहीं पनप सकते क्योंकि देश मजबूत हाथों में है। 

साध्वी प्रज्ञा का मॉब लिंचिंग को लेकर किया गया दावा न सिर्फ बेतुका है बल्कि सरासर झूठ है। हाल ही के दिनों में मध्य प्रदेश में एक के बाद एक मॉब लिंचिंग की घटनाएं घटित हुई हैं। इंदौर में सबसे पहले चूड़ी वाले एक मुस्लिम व्यक्ति से इसकी शुरुआत हुई। इसके बाद देवास में टोस्ट बेचने वाले मुस्लिम बुजुर्ग को आधार कार्ड न दिखाने की वजह से मारा पीटा गया। नीमच में भील समुदाय से आने वाले कन्हैयालाल को चोरी के शक में भीड़ ने गाड़ी से बांधकर और पीट पीट कर मार डाला। लेकिन बीजेपी सांड की नज़र में ये सभी घटनाएं मॉब लिंचिंग की हैं ही नहीं।