छात्रों को गाली देना झाबुआ एसपी को पड़ा भारी, सीएम शिवराज ने दिया तत्काल हटाने का निर्देश

मध्य प्रदेश के झाबुआ जिले में पॉलीटेक्निक के छात्रों से फोन पर गाली-गलौज करने के आरोप में पुलिस अधीक्षक अरविंद तिवारी को हटा दिया गया है।

Updated: Sep 19, 2022, 01:48 PM IST

छात्रों को गाली देना झाबुआ एसपी को पड़ा भारी, सीएम शिवराज ने दिया तत्काल हटाने का निर्देश

झाबुआ। मध्य प्रदेश के झाबुआ जिले के एसपी अरविंद तिवारी को छात्रों के साथ अभद्रता करना भारी पड़ गया। पॉलीटेक्निक छात्रों के साथ गाली गलौज का ऑडियो वायरल होने के बाद सीएम शिवराज ने बड़ी कार्रवाई की है। मुख्यमंत्री ने झाबुआ एसपी को तत्काल प्रभाव से हटाने के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को डीजीपी के साथ नियमित समीक्षा बैठक के दौरान कहा कि झाबुआ एसपी को तत्काल हटाइए। जिस भाषा में वह बात कर रहे हैं, वह अशोभनीय हैं। बच्चों के साथ कोई इस तरह कैसे बात कर सकता है? उन्हें तत्काल इसी क्षण हटाया जाए।

दरअसल, एक ऑडियो सामने आया है। इसमें पॉलीटेक्निक कॉलेज का एक छात्र दावा करता है कि कॉलेज लड़ाई हो गई है। कुछ लोग मार रहे हैं। हम 40 छात्र थाने आए हैं। हमें सुरक्षा दी जाए। दूसरा पक्ष डंडे एवं अन्य हथियारों के साथ हमला कर सकता है। हमारी जान को खतरा है। इस पर गुस्साए एसपी ने उनसे कहा कि तुम लोग पढ़ाई करने आते हो कि मारपीट करने। 

इतना ही नहीं एसपी ने गाली-गलौज करते हुए सभी छात्रों को अंदर करने की धमकी दी। पुलिस अधीक्षक ने तर्क दिया कि उससे अच्छी सुरक्षा कहीं और नहीं मिल सकती। यह भी कहा कि चालीस बच्चे हैं तो क्या, सबको अंदर कर देंगे। बातचीत में ऐसा लग रहा है कि एसपी नशे में हैं। उन्होंने नशे में ही बच्चों के साथ गाली-गलौज की। अब उन्हें पीएचक्यू भोपाल अटैच कर दिया गया है।