कांग्रेस विधायक के करीबी को ट्रक ने रौंदा, दिग्विजय सिंह ने जताई साजिश की आशंका

कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक के करीबी प्रमोद पाठक के भाई किशन पाठक को धनतेरस के दिन एक ट्रक रौंद कर चला गया था, घायल की हालत इस समय नाजुक है, घटना का सीसीटीवी फुटेज सामने आने के बाद कई तरह के सवाल खड़े हो गए हैं, सीसीटीवी फुटेज में यह पूरा मामला एक साजिश नज़र आ रहा है

Updated: Nov 07, 2021, 11:33 AM IST

कांग्रेस विधायक के करीबी को ट्रक ने रौंदा, दिग्विजय सिंह ने जताई साजिश की आशंका
Photo Courtesy: Dainik Bhaskar

भोपाल/ग्वालियर। ग्वालियर में कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक के करीबी व्यक्ति को ट्रक से रौंदे जाना के मामले में साजिश की आशंका जताई जा रही है। घटना का सीसीटीवी फुटेज सामने आने के बाद कई तरह के सवाल खड़े हो गए हैं। कांग्रेस नेता व राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने इस पूरे मामले में गहन जांच करने की मांग की है। उन्होंने इस घटना पर साजिश की आशंका जाहिर की है।दिग्विजय सिंह ने इस घटना को हाल ही में कंप्यूटर बाबा के साथ हुई घटना से भी जोड़ा है। 

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक के करीबी किशन पाठक को ट्रक द्वारा रौंदे जाने के मामले में कहा है कि यह एक गंभीर घटना है। पुलिस को तत्काल ही इस मामले में कार्रवाई करनी चाहिए। हाल ही में इसी प्रकार की घटना कंप्यूटर बाबा के साथ भी हुई थी। 

यह भी पढ़ें : BJP को पापी कहने के दो दिन बाद कंप्यूटर बाबा पर जानलेवा हमला, बाल-बाल बचे बाबा

क्या है मामला 

धनतेरस की शाम को कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक के करीबी प्रमोद पाठक के भाई किशन पाठक पिछोर बायपास पर विधायक प्रवीण पाठक और अपने भाई प्रमोद पाठक का इंतजार कर रहे थे। ओरछा में हुए एक कार्यक्रम से कांग्रेस विधायक के साथ घर की ओर लौट रहे अपने भाई प्रमोद पाठक को रिसीव करने के लिए किशन पाठक पिछोर बायपास पर अपनी बाइक लेकर आए थे। लेकिन इसी दौरान सड़क किनारे खड़े किशन पाठक को एक ट्रक रौंद कर चला गया। 

अब इस घटना का सीसीटीवी फुटेज सामने आया है। जिसके बाद इसे एक साजिश करार दिया जा रहा है। सीसीटीवी फुटेज में स्पष्ट तौर पर दिख रहा है कि किशन पाठक सड़क से काफी हटकर खड़े थे। लेकिन ट्रक उन्हें रौंद कर चला गया। किसान पाठक उर्फ टिंकू को रौंदने के बाद ट्रक सीधे आगे चला जाता है। जिससे यह स्पष्ट होता है कि ट्रक चालक ने किसी भी तरह से अपना नियंत्रण नहीं के खोया था। लिहाज़ा इस बात की आशंका बढ़ गई है कि किशन पाठक को जानबूझकर टक्कर मारी गई थी। 

किशन पाठक उर्फ टिंकू पेशे से रेत कारोबारी हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक किशन पाठक की हालत इस समय नाजुक है और वे ग्वालियर के जयारोग्य अस्पताल में भर्ती हैं। घायल किशन पाठक के परिजन भी इसे साजिश करार दे रहे हैं। इस मामले में हम समवेत ने जब कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक से संपर्क करने की कोशिश की, तब उनसे सम्पर्क नहीं हो पाया।