Bhopal: जनजातीय कार्यालय में कुत्ते को पीट-पीट कर मार डाला, सफाई कर्मी पर लगा आरोप

मानवता को शर्मसार करने वाली घटना, सफाई कर्मी के खिलाफ मामला दर्ज लेकिन अभी तक गिरफ्तारी नहीं

Updated: Jan 20, 2021, 06:40 PM IST

Bhopal: जनजातीय कार्यालय में कुत्ते को पीट-पीट कर मार डाला, सफाई कर्मी पर लगा आरोप
Photo Courtesy : Indian Express

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में मानवता को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है। राजधानी के जनजातीय संग्रहालय में काम करने वाले एक सफाई कर्मचारी पर एक कुत्ते को डंडे से पीट पीट कर मौत के घाट उतार देने का आरोप लगा है। आरोप है कि कुत्ते को मारने के बाद सफाई कर्मी ने उसे झाड़ी में फेंक दिया। इस घटना की चश्मदीद महिला की जागरूकता के कारण सफाई कर्मी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। 

भोपाल के श्यामला हिल्स स्थित जनजातीय संग्रहालय में काम करने वाले एक सफाई कर्मी को इस बात की सूचना मिली कि संग्रहालय की कैंटीन के पास बैठे कुछ आवारा कुत्ते वहां पर मौजूद लोगों को काट रहे हैं। आरोप है कि सफाई कर्मी को यह सुनकर इतना गुस्सा आया कि उसने कुत्तों को बेरहमी से मारना शुरू कर दिया। इसी बीच डंडे से पीटे जाने पर एक कुत्ते के शरीर से खून बहने लगा। लेकिन सफाई कर्मी का पारा इतना ज़्यादा चढ़ा हुआ था कि उसे कुत्ते को मारने के अलावा और कुछ सूझा ही नहीं। आखिरकार कुत्ता अपने ज़िन्दगी से हाथ दो बैठा। सफाई कर्मी ने कुत्ते की बॉडी को पास में ही झाड़ियों में फेंक दिया। 

लेकिन जिस समय सफाई कर्मी अपनी क्रूरता को बेजुबान जानवर पर आज़मा रहा था, उसी समय एक प्रत्यक्षदर्शी महिला वहां मौजूद थी। सफाई कर्मी की पशुता की गवाह गहना ने उसे ऐसा करने से रोका भी था, लेकिन अपनी सनक में सवार सफाई कर्मी ने गहना की एक भी नहीं सुनी और कुत्ते को कंकाल बना डाला। 

आर्मी ऑफिसर की पत्नी ने यह सब अपनी नज़रों के सामने होते हुए देखा था, लिहाज़ा उसने तुरंत अपने फोन में पशु प्रेमी का नंबर सर्च किया। गहना ने शहर के हर्षवर्धन नगर में रहने वाले प्रभांशु रंजन शुक्ला को फोन लगाया। प्रभांशु भोपाल के अशोका गार्डन में मोबाइल रिपेयरिंग की दुकान चलाते हैं। जब गहना ने उन्हें पूरी बात बताई तो प्रभांशु आनन फानन में जनजातीय संग्रहालय पहुंच गए। 

संग्रहालय पहुंचने पर उन्हें ज़मीन पर खून के धब्बे दिखाई दिए। प्रभांशु ने इसके बाद सीधे संग्रहालय के नजदीकी पुलिस थाने श्यामला हिल्स थाने का रुख किया। थाने से पुलिस की एक टीम प्रभांशु के साथ आई। संग्रहालय के सीसीटीवी कैमरे को जब खंगाला गया तब इस बात की पुष्टि हो गई कि आखिर सफाई कर्मी ने कुत्ते को बेरहमी से मार डाला है। 

झाड़ी में फेंके गए मृत कुत्ते को पोस्ट मार्टम के लिए राज्य पशु चिकित्सालय भेजा गया। इसके बाद कुत्ते के शव को प्रभांशु के हवाले किया गया। प्रभांशु ने कुत्ते को दफना दिया। प्राप्त जानकारी के अनुसार पुलिस ने सफाईकर्मी के खिलाफ मामला तो दर्ज कर लिया है लेकिन उसकी अब तक गिरफ्तारी नहीं हुई है।