भोपाल रेलवे स्टेशन से पकड़ाया फर्जी TC, इटारसी से भोपाल के बीच यात्रियों से करता था अवैध वसूली

रेलवे पुलिस ने नकली टीसी बनकर लोगों से पैसे वसूलने वाले आरोपी को किया गिरफ्तार, वर्दी और वायरलेस सेट दिखाकर जमाता था धौंस, कोरोना काल में छूटी नौकरी तो बन गया अपराधी

Updated: Sep 14, 2021, 01:35 PM IST

भोपाल रेलवे स्टेशन से पकड़ाया फर्जी TC, इटारसी से भोपाल के बीच यात्रियों से करता था अवैध वसूली
Photo Courtesy: Naidunia

भोपाल। राजधानी भोपाल के मुख्य रेलवे स्टेशन से एक फर्जी टिकट कलेक्टर को GRPF ने पकड़ा है। इस फर्जी TC का नाम अभय पांडेय है। जो की भोपाल रेलवे स्टेशन पर लोगों से जुर्माने के नाम पर अवैध वसूली करता था। 26 वर्षीय युवक कई महीनों से रेलवे स्टेशन पर वारदात को अंजाम देता रहा लेकिन किसी नजर में नहीं आया। लापरवाही का आलम यह है कि रेलवे की नाक के नीचे यह सब मुख्य रेलवे स्टेशन पर होता रहा लेकिन किसी को इसकी कानों-कान खबर नहीं हुई। लोगों को चकमा देने के लिए वह वर्दी में रहता औऱ उसके हाथ में पेपर्स और वायरलेस सेट भी रहता था।

जब कोई उससे सवाल जवाब करता तो वह उसे अफसर होने का रसूख दिखाकर कार्रवाई की बात कहता था। 6 महीने से आरोपी भोपाल-इटारसी के बीच लोगों से वसूली करता रहा लेकिन किसी को कानोंकान खबर नहीं हुई।

आरोपी शादी शुदा और दो बच्चों का पिता है। उसने घर वालों को भी अंधेरे में रखा था, उसने रेलवे में नौकरी लगने की बात कही थी। फिलहाल उससे पूछताझ जारी है। आगे की कार्रवाई की जा रही है।

आरोपी भोपाल के स्टेशन बजरिया थाना इलाके के साई नगर का निवासी है। रेलवे के अफसरों ने उसे पकड़ा और  GRPF के हवाले कर दिया। तब भी आरोपी अभय पांडे TC की वर्दी में था। काली कोट औऱ टाई पहने आरोपी लोगों पर रौब झाड़  रहा था। पकड़े जाने पर उसने पुलिस को बताया था कि उसके माता पिता प्राइवेट नौकरी करते हैं।

और पढ़ें: शाजापुर में प्रेम संबंध के कारण युवक की पिटाई, लड़की के पिता और भाई ने हथौड़े से की पीड़ित की पिटाई

कोरोना काल में उसकी नौकरी छूट गई थी। करीब 6 महीने पहले उसे कहीं से एक वायरलेस सेट मिला था। तब से उसने TC बनकर वसूली करना शुरु कर दिया। और लाखों रुपए की काली कमाई की। पुलिस को उसके मोबाइल से नोट उड़ाते वीडियो भी मिला है। पुलिस ने कई धाराओं में केस दर्ज कर लिया है।