MP By Poll 2020: आचार संहिता के डर से एक दिन पहले बांट दिया पैसा, स्कूली बच्चों के कार्यक्रम में शुरू की किसानों की योजना

Kisan Welfare Scheme: चुनाव आयोग की प्रेस कांफ्रेंस की जानकारी मिलते ही मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने एक दिन पहले शुरू की किसान कल्याण योजना, 26 सितंबर को होना था कार्यक्रम

Updated: Sep 25, 2020 08:23 PM IST

MP By Poll 2020: आचार संहिता के डर से  एक दिन पहले बांट दिया पैसा, स्कूली बच्चों के कार्यक्रम में शुरू की किसानों की योजना

भोपाल। आदर्श आचार संहिता लागू होने से घबराई सरकार ने बच्चों के कार्यक्रम में ही किसानों को सौगात बांट दी। शिवराज सरकार ने किसानों को एक दिन पहले ही मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना की पहली किस्त जारी कर दी है। पहले यह कार्यक्रम शनिवार 26 सितंबर को होना था। सरकार को डर था कि कहीं चुनाव आयोग आज से ही आर्दश आचार संहिता लागू ना कर दे, इसलिए शिक्षा विभाग के कार्यक्रम में ही किसानों को राशि का वितरण कर दिया। सरकार ने आनन फानन में 5.70 लाख किसानों के खातों में दो-दो हजार रुपए ट्रांसफर कर दिए। 

गौरतलब है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह शनिवार को मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना का शुभारंभ करने वाले थे। लेकिन इसे शुक्रवार को ही दीनदयाल जयंती के मौके पर ही कर दिया गया। आपको बता दें कि आज ही चुनाव आयोग ने प्रेस कांफ्रेंस की घोषणा थी जिसके बाद मुख्यमंत्री ने स्कूल शिक्षा विभाग के कार्यक्रम में किसानों के खाते में पैसे डाल दिये।

और पढ़ें: Shivraj Singh Chouhan: एमपी सरकार ने बढ़ाई किसान सम्मान निधि, किसानों को अब 6 की जगह मिलेंगे 10 हजार

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना का शुभारंभ किया। इस योजना से प्रदेश के 77 लाख किसानों को लाभ मिलेगा। किसानों के खाते में दो हजार रुपए भेजने जाने हैं। फिलहाल 5.70 लाख किसानों के खाते में यह राशि भेजी गई है। जल्द ही प्रदेश के बाकी किसानों के खाते में राशि का भुगतान होगा।

 प्रदेश के मेधावी छात्रों को लैपटॉप राशि बांटने का था कार्यक्रम

दरअसल भोपाल के मिंटो हॉल में स्कूली छात्रों के लिए आयोजित लैपटाप राशि वितरण का कार्यक्रम था। यहीं पर मुख्यमंत्री ने किसान कल्याण योजना का शुभारंभ एक क्लिक के जरिए किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती से अच्छा दिन इस योजना की शुरुआत के लिए नहीं हो सकता है। इसलिए किसान हितैशी इस योजना की शुरुआत आज ही कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने जानकारी दी है कि फिलहाल 5 लाख 70 हजार किसानों के खाते में  राशि भेजी गई है। आगे बाकी बचे किसानों के खाते में राशि पहुंचती रहेगी। आपको बता दें कि 22 सितंबर को ही मुख्यमंत्री ने पीएम किसान सम्मान निधि के साथ मध्यप्रदेश सरकार की ओर से किसानों के खाते में चार हजार रुपए देने का ऐलान किया था।  और इस योजना के शुभारंभ के मौके पर किसानों के खाते में दो हजार देने की शुरुआत कर दी गई है।

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत शिवराज सरकार हर साल किसानों को 4 हजार रुपये देगी। गौरतलब है कि केंद्र सरकार की ओर से प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत हर साल 6 हजार रुपए दिए जाते हैं। वहीं अब मध्य प्रदेश सरकार की ओर से 4 हजार रुपये अतिरिक्त दिए जाएंगे। यह राशि किसानों को दो किस्तों में दी जाएगी। इस योजना के लागू होने के बाद मध्यप्रदेश के किसानों को सालाना 10 हजार रुपए मिलेंगे।