Jitu Patwari FIR: गलत परंपराओं को जन्म दे रही है BJP  

MP Congress: विधायक जीतू पटवारी के समर्थन में उतरे बड़े कांग्रेस नेता, कमल नाथ, दिग्विजय सिंह, विवेक तंखा सहित सभी नेताओं ने की निंदा

Updated: Aug-10, 2020, 06:00 PM IST

Jitu Patwari FIR:  गलत परंपराओं को जन्म दे रही है BJP  

भोपाल। प्रधानमंत्री की एक तस्वीर पोस्ट करने के मामले में कांग्रेस नेता जीतू पटवारी पर इंदौर में एफआईआर दर्ज की गई है। जिसको लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए बीजेपी के इस कदम को सरासर गलत ठहराया है। कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह, पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ तथा राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा सहित कांग्रेस के सभी बड़े ने जीतू पटवारी के खिलाफ दर्ज FIR का पुरजोर विरोध किया है। 

पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा है कि बीजेपी ऐसा कर के प्रदेश की राजनीति में गलत परंपरा को जन्म दे रही है। मैं पहले भी इस बात को कह चुका हूँ और आज फिर दोहरा रहा हूँ भाजपा प्रदेश में निरंतर ग़लत परंपराओं को जन्म दे रही है। राजनैतिक बदलेबाजी, दबाव-दुर्भावना की राजनीति व द्वेष भावना से काम कर रही है। भाजपा जनता का विश्वास खो चुकी है इसलिये बौखलाहट में यह सब कर रही है।

हमारी सरकार ने कभी ऐसा नहीं किया 

कमल नाथ ने बीजेपी के नेताओं को प्रदेश की कांग्रेस सरकार की कार्यप्रणाली की याद दिलाते हुए कहा है कि प्रदेश में जब हमारी सरकार थी तब हमने कभी ऐसा कृत्य नहीं किया। कमल नाथ ने कहा है कि सरकारें आती जाती रहती है।हमारी भी प्रदेश में सरकार रही है लेकिन हमने कभी इस भावना से काम नहीं किया।हम भी यदि भाजपा की राह पर चलते तो आज कई भाजपाइयों पर इसी तरह से प्रकरण दर्ज हो चुके होते लेकिन हम इस तरह की राजनैतिक द्वेष भावना में विश्वास नहीं करते है।

पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा है कि  प्रदेश भर में हमारे नेताओं, जनप्रतिनिधियों व कार्यकर्ताओं को चुन-चुन कर निशाना बनाया जा रहा है, सोशल मीडिया पर काम करने वाले हमारे लोगों को डराया, धमकाया जा रहा है, उन पर झूठे प्रकरण दर्ज किये जा रहे है।

भाजपा बाज़ नहीं आई तो हम सड़क पर उतरेंगे 

कमल नाथ ने बीजेपी की दुर्भावना से प्रेरित राजनीति की तीखी आलोचना करते हुए कहा है कि मैं भाजपा सरकार को खुली चेतावनी देता हूँ कि वो इस कुत्सित व घृणित राजनीति से बाज आये अन्यथा हमें सड़कों पर उतरना पड़ेगा , भाजपा सरकार की इस दमनकारी सोच का मुँह तोड़ जवाब देना पड़ेगा।'

कमल नाथ ने अपने एक अन्य ट्वीट में कहा है कि  हम अन्याय बर्दाश्त नहीं करेंगे।  हमने देश की आज़ादी की लड़ाई के लिये अंग्रेजो से संघर्ष किया है तो भाजपा क्या है? भाजपा सरकार ने यदि इस तरह की द्वेष भावना की राजनीति बंद नहीं की तो हम इसके ख़िलाफ़ प्रदेशव्यापी आंदोलन करेंगे।

कांग्रेस कार्यकर्ता डरने वाला नहीं है 

पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने भी जीतू पटवारी के खिलाफ दर्ज हुए प्रकरण पर बीजेपी की तीखी आलोचना करते हुए कहा है कि 'आये दिन मप्र में कॉंग्रेस के कार्यकर्ताओं के ख़िलाफ़ सोशल मीडिया पर पोस्ट डालने पर पुलिस प्रकरण दर्ज कर रही है। शासन द्वारा दोहरा मापदंड अपनाया जा रहा है। कॉंग्रेस कार्यकर्ता डरने वाला नहीं है।' 

वहीं राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा ने हिंदी न्यूज़ चैनल इंडिया टीवी के एक व्यंग्य कार्टून का वीडियो पोस्ट किया है जिसमें कांग्रेस नेता राहुल गांधी और अध्यक्ष सोनिया गांधी को आपत्तिजनक रूप में दिखाया गया है। राज्यसभा सांसद ने वीडियो पोस्ट करते हुए कहा है कि  देश मे राजनीतिक व्यंग्य की समाप्ति। यदि व्यंग्य करने वाला बीजेपी समर्थक तो व्यंग्य ओर विपक्षी तो अपराध। इंडीया टीवी का राहुल, सोनिया जी पर व्यंग्य जायज जबकि जीतू पटवारी का व्यंग्य अपराध।क्या ? भारत के कानून मे दोहरे मापदंड है। यह तो "रूल ऑफ लॉ" नहीं। उन्होंने कहा कि हम मध्य प्रदेश के डीजीपी के निष्पक्ष भाव की तारीफ़ करते थे। यह वक्त है ईमानदारी से अपना दायित्व निभाने का।

तन्खा की बात का कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह ने भी समर्थन किया है। पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने कहा है कि 'मैं सहमत हूँ। आये दिन भाजपा की ट्रोल आर्मी नेहरू गांधी परिवार के सदस्यों के विरुद भद्दे अपशब्दों का उपयोग करते हैं तो उनके ख़िलाफ़ भी कार्रवाई होना चाहिए। इस मापदंड से देखा जाए तो इंडिया टीवी के ख़िलाफ़ भी अपराधिक प्रकरण दर्ज होना चाहिए।