Kamalnath : सर्कस का टाइगर जिंदा है या पेपर का?

MP Cabinet Expansion : PCC  अध्‍यक्ष कमलनाथ ने कहा कि यह सौदे की सरकार और सौदे का मंत्रिमंडल

Publish: Jul-03, 2020, 10:51 PM IST

Kamalnath : सर्कस का टाइगर जिंदा है या पेपर का?

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और पीसीसी चीफ कमलनाथ 3 जुलाई को रतलाम दौरे पर हैं। उन्होंने सैलाना में मीडिया को संबोधित करते हुए प्रदेश की बीजेपी सरकार पर निशाना साधा है। कमलनाथने कहा कि प्रजातंत्र के साथ जिस तरह की खिलवाड़ मध्यप्रदेश में हो रही है वह शर्मनाक है। मौजूदा सरकार और मंत्रिमंडल सौदे की है। ऐसी राजनीति प्रदेश में कभी नहीं हुई। 

गुरुवार को मंत्रिमंडल विस्तार के बाद कांग्रेस छोड़ कर बीजेपीमें ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया ने उपचुनाव में बीजेपी की जीत पक्की बताते हुए खुद को टाइगर से तुलना किया था। उन्होंने कहा था कि टाइगर अभी जिंदा है। सिंधिया के इस बयान पर कमलनाथ ने कहा, 'कौन सा टाइगर जिंदा है। सर्कस का टाइगर जिंदा है या पेपर का? अपने देश में टाइगर के साथ-साथ तरह-तरह के घोड़े भी होते हैं।एक शादी का घोड़ा होता है जो सज-सजाकर शादी में नाचने जाता है, एक रेस का घोड़ा होता है। इसी प्रकार कई तरह के टाइगर भी होते हैं।' 

पूर्व विधायक प्रभुदयाल गहलोत की मूर्ति के अनावरण के कार्यक्रम में सैलाना पहुंचे कमलनाथ ने मीडिया कर्मियों से बातचीत में कहा कि बीजेपी के कई पुराने नेताओं को योग्य और काबिल होने के बावजूद मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिली।  मंत्रिमंडल गठन के बाद बीजेपी में आक्रोश के सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा, ' यह भाजपा का अंदरूनी मामला है। यह सौदे की सरकार है, सौदे का मंत्रिमंडल है। 33 मंत्रियों में से 14 मंत्री ऐसे हैं जो वर्तमान में विधायक भी नहीं है तो यह सौदा नहीं है तो और क्या है? यह मध्य प्रदेश का अपमान कर रहे हैं, प्रदेश का अपमान पूरे देश भर में हो रहा है कि किस प्रकार का खिलवाड़ प्रजातंत्र के साथ हमारे मध्यप्रदेश में हो रहा है। हमें शर्म आ रही है कि मध्य प्रदेश में किस तरह की राजनीति हो रही है, ऐसी राजनीति हमारे प्रदेश में कभी नहीं हुई।'