इटारसी में करणी सेना के नगर मंत्री की सरेआम हत्या, बीच बाजार 3 बदमाशों ने चाकू से गोदा

करनी सेना के नगर मंत्री की हत्या को लेकर करणी सैनिकों में आक्रोश, सैंकड़ों कार्यकर्ताओं ने किया थाने का घेराव, आरोपियों के मकानों पर बुलडोजर चलाने की मांग

Updated: Sep 03, 2022, 02:45 PM IST

इटारसी में करणी सेना के नगर मंत्री की सरेआम हत्या, बीच बाजार 3 बदमाशों ने चाकू से गोदा

इटारसी। मध्य प्रदेश में आपराधिक घटनाओं में लगातार इजाफा देखने को मिल रहा है। शुक्रवार को नर्मदापुरम जिले के इटारसी में करनी सेना के नगर मंत्री की सरेआम हत्या कर दी। तीन बदमाशों ने बीच बाजार 28 वर्षीय रोहित सिंह राजपूत को चाकुओं से गोदकर मार डाला। इस घटना को लेकर करणी सैनिकों में भारी आक्रोश है।

इस घटना के बाद श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के पदाधिकारी और कार्यकर्ता बड़ी संख्या में इटारसी पहुंचें। उन्होंने रोहित का शव थाने के सामने रखकर जबरदस्त हंगामा किया। करण सैनिक मांग कर रहे थे कि आरोपियों का पूरे नगर जुलूस निकली जाए। साथ ही उनके मकानों को बुलडोजर से ध्वस्त किया जाए।
शुक्रवार रात हुई चाकूबाजी की इस घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। चंद सेकंड के इस वीडियो में बदमाश दो युवकों पर चाकू से हमला करते दिख रहे हैं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक यह घटना शुक्रवार रात करीब साढ़े आठ बजे मुख्य बाजार इलाके की है। यहां रोहित अपने एक दोस्त के साथ खड़े थे। तभी वहां बाइक से तीन लोग आए और उनसे विवाद करने लगे। इनमें से एक शख्स ने अचानक चाकू निकाला और रोहित के पेट में घोंप दिया। उसने रोहित पर एक के बाद एक लगातार वार किए। उनका दोस्त जब बदमाशों को रोकने लगा तो उस पर भी चाकू से हमला कर दिया और वहां से फरार हो गए।

यह भी पढ़ें: भोपाल नगर निगम में विभाग बंटवारे को लेकर खींचतान, कृष्णा गौर के समर्थकों ने MIC से दिया इस्तीफा

वहां मौजूद लोगों ने ही पुलिस को इस मामले कि सूचना दी और जख्मी राजपूत और पटेल को अस्पताल लेकर पहुंचे। इलाज के दौरान देर रात रोहित की मौत हो गई। जबकि उसके साथी सचिन पटेल की हालत गंभीर है। हादसे की सूचना मिलते ही एसडीओपी महेंद्र सिंह चौहान और टीआई रामसनेही चौहान सरकारी अस्पताल पहुंचे।

इटारसी थाना टीआई आरएस चौहान ने बताया कि करणी सेना के नगरमंत्री रोहित सिंह राजपूत की हत्या पुराने विवाद को लेकर हुई। हत्या में मुख्य आरोपी रानू उर्फ राहुल ठाकुर (27)निवासी उत्तरी बंगलिया इटारसी से रोहित की पुरानीहै। रोहित सिंह और रानू ठाकुर का पुराना विवाद चल रहा था। आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि शुक्रवार रात को चाय की दुकान पर थे। उसी दौरान रोहित से झगड़ा हो गया। इस पर उन्होंने चाकू से हमला कर दिया। रोहित और सचिन को जांघ के नीचे चाकू मारे गए। जिसमें रोहित की मौत हो गई।