मध्य प्रदेश में चले कोल विशेष भर्ती अभियान, कोल महापंचायत की मांग

कोल महापंचायत ने मुख्यमंत्री ने नाम डिंडोरी कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन, कोल विकास अभिकरण को प्राधिकरण बनाने की भी मांग, मांगें पूरी नहीं होने पर दी आंदोलन की चेतावनी

Updated: Jan 14, 2021, 02:12 PM IST

मध्य प्रदेश में चले कोल विशेष भर्ती अभियान, कोल महापंचायत की मांग

डिंडोरी। मध्य प्रदेश आदिवासी गौटिया कोल महापंचायत ने प्रदेश के कोल आदिवासियों के हितों के लिए एक बार फिर आवाज उठाई है। कोल महापंचायत ने प्रदेश में बैगा विशेष भर्ती अभियान की तर्ज पर कोल भर्ती अभियान चलाने की मांग की है। आदिवासी गौटिया कोल महापंचायत ने मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा और फिर केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते से भी मुलाकात की।

आदिवासी गौटिया कोल महापंचायत परगना डिंडोरी के राज्य सचिव अशोक सरैया का कहना है कि मध्य प्रदेश के 90 प्रतिशत कोल भूमिहीन हैं। कोल समाज के महज 10वीं-12वीं पास लोग मजदूरी करने को मजबूर हैं। प्रदेश सरकार को उनपर ध्यान देना चाहिए। उन्होंने कोल विकास अभिकरण को प्राधिकरण बनाने मांग की है। साथ ही आदिवासी कोटे का लाभ कोल समाज को देने के लिए कोल विशेष भर्ती अभियान चलाने की अपील भी की है। 

 

 

मध्य प्रदेश आदिवासी गौटिया कोल महापंचायत परगना डिंडोरी की ओर से कलेक्टर को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के नाम ज्ञापन सौंपा। इस ज्ञापन में 5 मांगें रखी गई हैं। आदिवासी गौटिया कोल महापंचायत ने चेतावनी दी है कि अगर सरकार ने इनकी मांगें नहीं मानी तो वे उग्र आंदोलन करने पर मजबूर होंगे। इस दौरान आदिवासी समाज की ओर से एक बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें बड़ी संख्या में कोल आदिवासी शामिल थे। सभी कोल आदिवासियों ने डिंडोरी कलेक्ट्रेट तक रैली निकाली।

आदिवासी गौटिया कोल महापंचायत परगना डिंडोरी के पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं ने केंद्रीय राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते से भी मुलाकात की और अपने ज्ञापन पर कार्रवाई करने की मांग की। केंद्रीय मंत्री ने कोल समाज को कार्रवाई का आश्वासन दिया है।