धार में दर्दनाक हादसा, पुल से नीचे गिरी यात्रियों से भरी बस, सभी 14 लोगों कि मौत

मध्य प्रदेश के धार में रेलिंग तोड़कर नर्मदा नदी में गिरी बस, ड्राइवर समेत बस में सवार सभी 14 लोगों की मौत, राज्य सरकार ने पीड़ित परिजनों को 4 लाख मुआवजा देने का किया ऐलान

Updated: Jul 18, 2022, 03:09 PM IST

धार में दर्दनाक हादसा, पुल से नीचे गिरी यात्रियों से भरी बस, सभी 14 लोगों कि मौत

धार। मध्य प्रदेश के धार जिले से दर्दनाक हादसे की खबर आ रही है। यहां यात्रियों से भरी बस संजय सेतु पूल से नीचे नदी में गिर गई। इस हादसे के दौरान ड्राइवर समेत बस में सवार सभी 14 लोगों कि मौत हो गई। राज्य सरकार ने मृतकों के परिजनों को 4 चार रूपए मुआवजा देने का ऐलान किया है। 

रिपोर्ट्स के मुताबिक यह बस इंदौर से महाराष्ट्र की ओर जा रही थी। रास्ते में धामनोद के खलघाट संजय सेतु पुल पर ड्राइवर का संतुलन बिगड़ गया और बस रेलिंग तोड़ते हुए उफनती नदी में जा गिरी। शुरुआत में बताया गया की बस में 40 लोग सवार थे। हालांकि, बाद में गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि बस में 14 लोग ही थे और सभी की मौत हो चुकी है। जिन 15 लोगों को रेस्क्यू की खबर आई थी वे दरअसल, स्थानीय लोग थे जो हादसे के वक्त वहां नहा रहे थे।

दुर्घटनाग्रस्त बस को नदी के बाहर निकाल लिया गया है। सभी पीड़ितों की पहचान भी हो चुकी है। इनमें कुछ लोग महाराष्ट्र के थे। महाराष्ट्र की एकनाथ शिंदे ने उनके परिजनों को 10 लाख रुपए मुआवजा देने का ऐलान किया है। जबकि मध्य प्रदेश सरकार ने 4 लाख मुआवजे का ही ऐलान किया है। इसके अलावा प्रधानमंत्री मोदी ने भी सभी मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपए देने का ऐलान किया था।

यह हादसा आगरा-मुंबई (एबी रोड) हाईवे पर हुआ। घटनास्थल इंदौर से 80 किलोमीटर दूर है। जिस संजय सेतु पुल से बस गिरी, वो दो जिलों धार और खरगोन की सीमा पर बना है। आधा हिस्सा खलघाट (धार) और आधा हिस्सा खलटाका (खरगोन) में है। खरगोन से भी कलेक्टर और एसपी मौके पर पहुंचे हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस घटना को लेकर दुख जताया है। पीएम मोदी ने ट्वीट किया, 'मध्य प्रदेश के धार में हुआ बस हादसा दुखद है। मेरी संवेदनाएं उनके साथ हैं, जिन्होंने अपनों को खोया है। बचाव कार्य जारी है और स्थानीय अधिकारी प्रभावित लोगों को हर संभव सहायता प्रदान कर रहे हैं।'