पेट्रोलियम डीलर्स की हड़ताल, आज मध्य प्रदेश में दो घंटे बंद रहेंगे पेट्रोल पंप, कमीशन बढ़ाने की कर रहे हैं मांग

बुधवार शाम 7 बजे से लेकर रात 9 बजे तक लोगों को पंपों पर ईधंन नहीं मिलेगा, डीलर्स कमीशन बढ़ाने की मांग कर रहे हैं, अगर उनकी मांग नहीं मानती है तो डीलर्स ने अनिश्चिकाली हड़ताल की चेतावनी भी दी है

Updated: May 25, 2022, 03:40 PM IST

पेट्रोलियम डीलर्स की हड़ताल, आज मध्य प्रदेश में दो घंटे बंद रहेंगे पेट्रोल पंप, कमीशन बढ़ाने की कर रहे हैं मांग

भोपाल। मध्य प्रदेश में पेट्रोल पंप संचालकों ने तय किया है कि बुधवार शाम 7 बजे से रात नौ बजे तक पंप बंद रहेंगे। यानी यहां कोई कारोबार नहीं होगा। साथ ही ये भी चेतावनी दी है कि मांगें नहीं मानी गईं तो ये हड़ताल अनिश्चितकाल के लिए भी की जा सकती है। दरअसल पंप संचालकों ने ईंधन की बिक्री पर कमीशन बढ़ाने की मांग को लेकर हड़ताल शुरू कर दी है।

बताया जा रहा है कि डीलर्स एसोसिएशन ने पेट्रोलियम कंपनियों को अल्टीमेटम भी दे दिया है। इस वजह से आज सूबे के करीब 4 हजार से ज्यादा पेट्रोल पंप पर 2 घंटे लोगों को ईधंन नहीं मिलेगा। जबकि पेट्रोल पंप के लिए शाम 7 से 9 बजे का समय सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण होता है। डीलर्स ने स्टेट लेवल को-आर्डिनेटर के सामने अपनी मांगे रखी हैं। उनका कहना है कि जरूरी सेवा होने की वजह से पेट्रोल पंप को सिर्फ दो घंटे के लिए बंद रखा गया है।

यह भी पढ़ें: सांप्रदायिकता के भंवर में डूबे भंवरलाल, 59 सेकेंड और 14 चांटों में जीवन तमाम

मध्य प्रदेश पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष अजय सिंह ने बताया कि जरूरी सेवा है, इसलिए सिर्फ दो घंटे ही पंप बंद रखेंगे। केंद्र सरकार के एक्साइज ड्यूटी घटाने से मध्य प्रदेश में पेट्रोल साढ़े नौ और डीजल सात रुपये प्रतिलीटर सस्ता हो गया है। पेट्रोल के दाम कम होने से आम जनता को कुछ राहत मिली है, लेकिन डीलर को एक्साइज ड्यूटी की कटौती से 12 से 15 लाख रुपये का नुकसान उठाना पड़ रहा है। भारत पेट्रोलियम, हिंदुस्तान पेट्रोलियम के पेट्रोल पंप डीलर्स ने भी अपनी मांगें स्टेट को-आर्डिनेटर के सामने रखी हैं।

जानकारी के मुताबिक राजधानी भोपाल में करीब 150 से ज्यादा पेट्रोल पंप हैं। यहां रोजाना अमूमन 9 लाख लीटर से ज्यादा पेट्रोल और करीब 10 लाख लीटर से ज्यादा डीजल की खपत हो जाती है। गर्मियों का सीजन होने के कारण अक्सर शाम के वक्त पेट्रोल पंपों में ज्यादा भीड़ रहती है। स्ट्राइक की वजह से गाड़ी मालिकों को परेशानियों का सामने करना पड़ सकता है। दो घंटे उन्हे किसी भी पंप में इंधन नहीं मिलेगा।