मध्य प्रदेश में ठंड से हाल बेहाल, छतरपुर में 0.5 डिग्री तक पहुंचा पारा, भोपाल में टूटा 17 साल का रिकॉर्ड

शीतलहर को देखते हुए भोपाल और इंदौर समेत कई जिलों में स्कूलों की छुट्टियां घोषित कर दी गई हैं। भोपाल में 6 से 10 जनवरी, इंदौर में 6 से 9 जनवरी तक नर्सरी से 8वीं तक कक्षाओं की छुट्टी रहेगी।

Updated: Jan 07, 2023, 12:05 PM IST

मध्य प्रदेश में ठंड से हाल बेहाल, छतरपुर में 0.5 डिग्री तक पहुंचा पारा, भोपाल में टूटा 17 साल का रिकॉर्ड

भोपाल। मध्य प्रदेश 1 जनवरी से ही ठिठुर रहा है। शनिवार को भी शीतलहर के साथ कोहरे का कहर जारी है। हालत ये है कि कई जिलों में न्यूनतम तापमान 2 डिग्री से भी नीचे चला गया है। शुक्रवार रात छतरपुर जिले के नौगांव में सर्वाधिक ठंड दर्ज की गई। यहां न्यूनतम तापमान 0.5 डिग्री तक चला गया।

वहीं खजुराहो में न्यूनतम तापमान 1.6 डिग्री, उमरिया में 1.7 डिग्री, ग्वालियर में 2.5 डिग्री, गुना और दमोह में 3 डिग्री दर्ज की गई। रीवा और सीधी में तापमान 4 डिग्री दर्ज की गई। भोपाल और इंदौर की रातें भी कड़ाके की ठंड की जकड़ में रहीं। भोपाल में रात का तापमान 8 तो इंदौर में 11 डिग्री रिकॉर्ड हुआ। डिंडौरी में छतों और गाड़ियों पर ओस जम गई। 

यह भी पढ़ें: जोशीमठ में मंदिर ढहा, 600 परिवारों को तत्काल घर खाली करने का आदेश, रेस्क्यू के लिए हेलीकॉप्टर तैयार

राजधानी भोपाल में रात का तापमान 8 तो इंदौर में 11 डिग्री रिकॉर्ड हुआ। भोपाल में जनवरी के पहले हफ्ते के दिन 17 साल में सबसे ठंडे रहे हैं। यहां औसत अधिकतम तापमान 19.6 डिग्री रहा। मौसम विशेषज्ञ एके शुक्ला के मुताबिक, भोपाल में 2006 से लेकर अब तक जनवरी की शुरुआत में दिन इतने ठंडे नहीं रहे। 

अत्यधिक ठंड को देखते हुए भोपाल और इंदौर समेत अधिकांश जिलों में स्कूलों की छुट्टियां घोषित कर दी गई हैं। भोपाल में 6 से 10 जनवरी, इंदौर में 6 से 9 जनवरी तक नर्सरी से 8वीं तक कक्षाओं की छुट्टी रहेगी। मौसम वैज्ञानिक, अशफाक हुसैन ने बताया कि रविवार से नया सिस्टम एक्टिव हो रहा है। इससे दो दिन तक तापमान सामान्य बना रहेगा। 24 घंटे के बाद तापमान दो से तीन डिग्री बढ़ सकता है। 10 जनवरी से एक और सिस्टम बनेगा। इससे 13 जनवरी को उत्तर प्रदेश और राजस्थान में बारिश के आसार हैं। इसके कारण 14 जनवरी से मध्यप्रदेश के कई जिलों में तापमान में गिरावट आएगी। यानी ठंड फिर जोर पकड़ लेगी।