Bhopal: GMC HODरिश्वत लेते गिरफ़्तार

गांधी मेडिकल कॉलेज के फोरेंसिक विभाग HOD डॉ. मुरली लालवानी ने पीजी छात्रों को दी थी फेल करने की धमकी

Updated: Jul 27, 2020 11:23 PM IST

Bhopal: GMC HODरिश्वत लेते गिरफ़्तार

भोपाल। गांधी मेडिकल कॉलेज के फॉरेंसिक मेडिसिन विभाग के एचओडी डॉक्टर मुरली लालवानी को लोकायुक्त पुलिस ने 40 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा है। डॉक्टर ललवानी ने डेढ़ लाख रुपए की घूस अपने विभाग के पीजी स्टूडेंट से मांगी थी। पैसे नहीं देने पर छात्र को परीक्षा में फेल करने की धमकी दी थी। जिसकी शिकायत पीजी छात्र डॉ. यशपाल सिंह ने पुलिस अधीक्षक लोकायुक्त से शिकायत की थी ।  

पीजी छात्र की शिकायत पर एसपी लोकायुक्त ने पूरे मामले की प्राथमिक तौर पर जांच की। प्राथमिक जांच में शिकायत सही पाई जाने पर लोकायुक्त की टीम ने आरोपी डॉक्टर मुरली लालवानी को ट्रैप किया।

डाक्टर लालवानी पर आरोप है कि वो एम.डी. फाइनल इयर पास करने और पोस्ट मोर्टम लीगल वर्क की फीस के रूप में 1.5 लाख रुपए की मांग कर रहे थे। डॉ. यशपाल सिंह HOD डॉ. लालवानी के बिहाफ पर पी.एम. एग्जामिनेशन करते हैं। डॉ. यशपाल का कहना है कि डेढ़ लाख रुपए की रिश्वत नहीं देने पर डॉ. लालवानी ने यशपाल को फेल करने की धमकी दी थी। डॉ. मुरली लालवानी को यशपाल से 40हजार की रिश्वत लेते हुए HOD के कैबिन में लोकायुक्त टीम ने रंगेहाथ गिरफ्तार किया।

डॉ. लालवानी ने यशपाल के साथ दो और पी.जी. छात्रों डॉ. अशोक यादव और डॉ. संजय जैन से भी रिश्वत की मांग की थी। यशपाल के साथ अब दोनों मेडिकल छात्रों के तथ्यों की जांच में लोकायुक्त की टीम जुटी है। दोनों पीजी स्टूडेंट के बयान लिए जा रहे हैं। लोकायुक्त पुलिस इस ट्रेप की कार्रवाई के बाद स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा विभाग को डॉक्टर लालवानी की रिपोर्ट भेजेगी।