MP Board Exam 2021: परीक्षा पैटर्न में बड़ा बदलाव, OMR शीट में देने होंगे 50 में से 30 सवालों के जवाब

10वीं, 12वीं की बोर्ड परीक्षा में ऑब्जेक्टिव सवाल भी पूछे जाएँगे, जिनके जवाब OMR शीट पर देने होंगे, माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा जारी प्रश्न बैंक से पूछे जाएंगे सवाल

Updated: Jan 25, 2021, 02:03 PM IST

MP Board Exam 2021: परीक्षा पैटर्न में बड़ा बदलाव, OMR शीट में देने होंगे 50 में से 30 सवालों के जवाब
Photo Courtesy: Scroll.in

भोपाल। माध्यमिक शिक्षा मंडल ने कक्षा 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा के पैटर्न में बड़ा बदलाव किया है। छात्रों को मल्टीपल च्वाइस क्वेश्चन्स (MCQ) का जबाव OMR शीट में भरना होगा। OMR शीट में काले गोले लगाकर पहले आधे घंटे में सवाल हल करने होंगे। बोर्ड परीक्षा में कुल 50 सवाल पूछे जाएंगे। जिसमें से 30 ऑब्जेक्टिव यानी वस्तुनिष्ठ सवाल हल करने के लिए आधे घंटे का समय दिया जाएगा, इसे OMR शीट में भरना होगा, इसके बाद बाकी 20 सवाल हल करने के लिए ढाई घंटे का समय होगा, सवाल कॉपियों में लिखना होगा।

आंसर शीट में 20 सवालों के उत्तर दी गई वर्ड लिमिट में लिखने होंगे। 20 सवाल सब्जेक्टिव होंगे जिनमें 10 सवाल 3 और बाकी 10 सवाल 4 नंबरों के होंगे। हर पेपर तीन कैटेगरी में बंटा होगा। इनमें पहली कैटेगरी ऑब्जेक्टिव यानी वस्तुनिष्ठ प्रश्नों की होगी। इसके बाद दूसरी कैटेगरी में सब्जेक्टिव सवाल पूछे जाएंगे, वहीं तीसरी कैटेगरी में एनालिटिकल सवाल पूछे जाएंगे।

माध्यमिक शिक्षा मंडल के अध्यक्ष राधेश्याम जुलानिया ने इस बारे में निर्देश जारी कर दिए हैं। बोर्ड परीक्षाएं 30 अप्रेल से होने जा रही हैं, छात्रों की परीक्षा का रिजल्ट जल्दी जारी करने के उद्देश्य से परीक्षा के पैटर्न में बदलाव किया जा रहा है। बोर्ड परीक्षा की OMR शीट भोपाल में चेक होंगी। बाकी सब्जेक्टिव सवालों की आंसर शीट गृह जिलों में ही चेक होंगी, पहले ये कापियां दूसरे जिलों में चेक होने के लिए भेजी जाती थीं। लेकिन अब यह पैटर्न भी बदला जा रहा है।

माध्यमिक शिक्षा मंडल की ओर से कहा गया है कि जल्द ही बोर्ड परीक्षाओं के लिए प्रश्न बैंक माध्यमिक शिक्षा मंडल की साइट पर अपलोड होगा, जिनमें हर सब्जेक्ट के 500 से ज्यादा प्रश्न होंगे। इन्हीं प्रश्न बैंक से परीक्षा में सवाल पूछे जाएंगे। गौरतलब है कि विषयों का सिलेबल 30 प्रतिशत कम कर दिया गया है।

इसके बाद बोर्ड ने निर्णय लिया है कि इस बार बाहर से सवाल नहीं पूछे जाएंगे। प्रश्न बैंक के सवालों को अच्छे से पढ़ने पर अच्छा रिजल्ट लाया जा सकता है। 29 जनवरी का माध्यमिक शिक्षा मंडल की परीक्षा कार्यकारिणी की बैठक है, उम्मीद की जा रही है कि इस बैठक मे परीक्षा के टाइम टेबल पर चर्चा होगी और जल्द से जल्द टाइम टेबल जारी किया जाएगा। दरअसल कोरोना काल में पिछले मार्च 2020 से स्कूल बंद है, करीब 10 महीने कक्षाएं ऑनलाइन लगने के बाद स्कूल खुल गए हैं। लेकिन कोरोना के डर की वजह से स्कूलों में बच्चों की संख्या कम आती है। 

कोरोना काल से पहले बोर्ड परीक्षाओं में सभी सवालों के जवाब आंसरशीट में लिखने होते थे। लेकिन इस बार प्रतियोगी परीक्षाओं की तर्ज पर बोर्ड परीक्षा करने का फैसला लिया गया है। इस बार स्टूडेंट्स को परीक्षा के दौरान ओएमआर शीट भी मिलेगी। जिसमें मल्टीपल च्वाइस सवालों के जवाब गोले भरकर देना पड़ेगा। ताकी रिजल्ट भी जल्दी जारी किया जा सके।