पहले फ्री वैक्सीन देने का वादा और अब चंदे की मांग, मंत्री उषा ठाकुर की अजब अपील, वैक्सीनेशन के बाद पीएम केयर फंड में 500 रुपए जमा करें

संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर ने मुफ्त कोरोना वैक्सीन लगवाने वालों से कहा है कि वे पीएम केयर फंड में 500 रुपये जमा कराएं, कोरोना की वजह से देश की सभी व्यवस्थाएं प्रभावित होने का दिया हवाला

Updated: Jul 02, 2021, 01:58 PM IST

पहले फ्री वैक्सीन देने का वादा और अब चंदे की मांग, मंत्री उषा ठाकुर की अजब अपील, वैक्सीनेशन के बाद पीएम केयर फंड में 500 रुपए जमा करें
Photo Courtesy: Free press journal

इंदौर। एक तरफ तो सरकार लोगों को मुफ्त में कोरोना वैक्सीन लगवा रही है, दूसरी तरफ उनके मंत्री लोगों से उन टीकों के बदले लोगों से पीएम केयर फंड में 500 रुपए जमा करने की अपील कर रहे हैं। अपने बयानों से सुर्खियों में रहने वाली शिवराज सरकार की पर्यटन संस्कृति और आध्यात्म विभाग की मंत्री उषा ठाकुर वैक्सीन लगवाने वालों को अजीब सलाह दे रही हैं। उनका कहना है कि सरकार ने एक वैक्सीन के लिए 250 रुपए खर्च किए हैं, अगर आपकों कोरोना की दो वैक्सीन लग गई है तो आप इस वैक्सीन के बदले पीएम केयर फंड में दो टीकों में खर्च होने वाले 500 रुपए जमा करवाएं।

 मंत्री का कहना है कि “कोरोना महामारी की वजह से देश की सभी व्यवस्थाएं प्रभावित हुईं हैं। इसलिए मैं आप सबसे करबद्ध प्रार्थना करना चाहती हूं कि पीएम केयर फंड में पैसा जमा कर दें।“

 

दरअसल मंत्री जी ने वैक्सीन के बदले पीएम केयर फंड में चंदा जमा करने के अभियान की शुरूआत की है, उन्होंने इसके पीछे तर्क दिया है कि भगवान ने हमें सक्षम और समर्थ बनाया है तो हमें वैक्सीन की दो डोज के लिए 500 रुपए डोनेट करना चाहिए।

और पढ़ें: दवाई से नहीं हवन से कोरोना नष्ट करने की सलाह दे रहे हैं आरएसएस के युवा, डोर टू डोर चल रहा है कैंपेन

दरअसल भारत में केंद्र सरकार की ओर से 18 साल तक के सभी नागरिकों को मुफ्त में कोरोना वैक्सीन लगाई जा रही है। केंद्र औऱ राज्यों की फ्री वैक्सीन के वादे के बीच अब मंत्री जी की यह अपील की वैक्सीन लगवाने वाले सक्षम लोग पीएम केयर फंड में 500 रुपए जमा करें, पर लोगों ने आपत्ति ली है। पर्यटन संस्कृति और आध्यात्म विभाग की मंत्री उषा ठाकुर के विवादित बयान पर सवाल उठने लगे हैं। 

और पढ़ें: कोरोना भगाने की नई तरकीब, एयरपोर्ट पर भजन कीर्तन करने लगीं पर्यटन मंत्री उषा ठाकुर

 यह पहला मौका नहीं है जब उषा ठाकुर अपने बयानों से सुर्खियां में रही हैं, इससे पहले वे यज्ञ और हवन से कोरोना भगाने की बात कह चुकी हैं। मंत्री ने लोगों से अपील की थी कि सभी लोग सुबह एक साथ यज्ञ करें और आहुतियां डालें, इससे पर्यावरण शुद्ध होगा और महामारी का नाश होगा, उनका दावा था कि हवन करने से कोरोना की तीसरी लहर किसी का बाल भी बांका नहीं कर पाएगी।

और पढ़ें: मंत्री उषा ठाकुर की मास्क नहीं लगाने पर अजब दलील, वैदिक जीवन जीने वालों को नहीं छुएगा कोरोना

एक बार मंत्री उषा ठाकुर ने मास्क नहीं पहनने को लेकर सफाई दी थी कि जो लोग वैदिक जीवन जीते हैं, योग, प्रणायाम करते हैं, दुर्गा सप्तशती का पाठ करते हैं, उन्हें कोरोना का कोई डर नहीं है। उनका कहना है कि वे रोजाना हनुमान चालीसा और सप्तशती का पाठ करती हैं, शंख बजाती हैं। गोबर के कंडे पर हवन करती हैं। इसलिए कोरोना जैसी कोई रोग व्याधि उन्हें छू भी नहीं पाएगी।