MP Exit Polls: मध्य प्रदेश में शिवराज को राहत, लेकिन सिंधिया के गढ़ में कांग्रेस को बढ़त

इंडिया टुडे के एग्ज़िट पोल में बीजेपी को 16 से 18 और कांग्रेस को 10-12 सीटें, दैनिक भास्कर के पोल में बीजेपी को 14 से 16 और कांग्रेस को 10 से 13 सीटें, कांग्रेस ने इन एग्ज़िट पोल्स को किया ख़ारिज

Updated: Nov 07, 2020, 08:41 PM IST

MP Exit Polls: मध्य प्रदेश में शिवराज को राहत, लेकिन सिंधिया के गढ़ में कांग्रेस को बढ़त
Photo Courtesy: Amar Ujala

भोपाल। मध्यप्रदेश की 28 सीटों पर हुए उपचुनाव के एग्जिट पोल्स आने लगे हैं। निजी मीडिया संस्थानों द्वारा किए गए सर्वे के मुताबिक मध्यप्रदेश में बीजेपी की सरकार बनी रहेगी। शुरुआती रुझानों के मुताबिक कांग्रेस को बढ़त मिलती नहीं दिख रही है। मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज के लिए यह एग्जिट पोल राहत भरा है। हालांकि कांग्रेस ने इस एग्जिट पोल को बीजेपी के लिए तिनके का सहारा बताया है।

इंडिया टुडे-एक्सिस माइ इंडिया के एग्जिट पोल में बीजेपी बाजी मारती दिख रही है। इस पोल के मुताबिक बीजेपी को 16 से 18 सीटें मिलने की उम्मीद है वहीं कांग्रेस के खाते में 10 से 12 सीट जाती दिख रही है। इस पोल में बीएसपी को भी एक सीट मिलने का अनुमान जताया गया है। वोट प्रतिशत की बात करें तो बीजेपी को 46 फीसदी वहीं कांग्रेस को 43 फीसदी वोट मिलने का अनुमान है।

भास्कर के एग्जिट पोल में भी कांग्रेस पिछड़ती नजर आ रही है। दैनिक भास्कर ने अपने एग्जिट पोल में बताया है कि बीजेपी को 14 से 16 सीटें मिलेंगी वहीं कांग्रेस को 10 से 13 सीटों में ही संतोष करना होगा। इस एग्जिट पोल ने भी यह संकेत दिया है कि बीजेपी आसानी से अपनी सरकार बचाने में कामयाब हो जरगी। 

सिंधिया के गढ़ में कांग्रेस को बढ़त

भास्कर ने अपने एग्जिट पोल में बताया है कि सिंधिया के गढ़ माने जाने वाले ग्वालियर-चंबल क्षेत्र में कांग्रेस को बढ़त मिलने का अनुमान है। पोल के मुताबिक ग्वालियर-चंबल क्षेत्र में बीजेपी को 4 से 7 सीटों पर ही संतोष करना पड़ेगा। जबकि कांग्रेस यहां 8 से 11 सीटें जीतने में कामयाब हो सकती है। इस क्षेत्र में अन्य के खाते में भी एक सीट जाती दिख रही है।

मध्य प्रदेश कांग्रेस ने इन एग्जिट्स पोल को गलत बताते हुए खारिज कर दिया है। पार्टी ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से ट्वीट कर कहा है कि यह एग्जिट पोल्स बीजेपी के लिए तिनके का सहारा हैं। कांग्रेस ने सभी 28 सीटों पर जीत हासिल करने का अपना दावा फिर से दोहराया है।

 

 

एक अन्य ट्वीट में कांग्रेस ने कहा है कि बीजेपी जानती है कि उसे एक भी सीट नहीं मिलने वाली है। लेकिन 10 नवंबर के पहले पार्टी में बिखराव को रोकने के लिए यह झूठ जरूरी है। 

बता दें कि मध्यप्रदेश उपचुनाव के नतीजे 10 नवंबर को आएंगे। बीजेपी को बहुमत के लिए 28 में से आठ सीटों की जरूरत है वहीं कांग्रेस को बहुमत के लिए सभी 28 सीटों पर जीत हासिल करना होगा।