Mp Weather Update: पचमढ़ी में 1.6 डिग्री तक गिरा पारा, रायसेन में जम गईं ओस की बूंदें

मध्य प्रदेश में कड़ाके की सर्द पड़ रही है, शुक्रवार रात पचमढ़ी का पारा 1.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, रायसेन में जम गईं ओस की बूंदें, 16 जिलों में शीत लहर से जनजीवन पर पड़ा असर

Updated: Jan 30, 2021, 04:43 PM IST

Mp Weather Update: पचमढ़ी में 1.6 डिग्री तक गिरा पारा, रायसेन में जम गईं ओस की बूंदें
Photo Courtesy: Bhaskar

भोपाल। मध्य प्रदेश में इनदिनों कड़ाके की ठंड पड़ रही है। प्रदेश के करीब 16 जिलों में शीतलहर का दौर जारी  है, जिससे जनजीवन प्रभावित हो रहा है। लोग ठंड से बचने के तमाम उपाय करने के बाद भी सर्दी महसूस कर रहे हैं। पचमढ़ी में सबसे ज्यादा सर्द रात रही। यहां पारा 1.6 डिग्री दर्ज किया गया। नौगांव, रायसेन, उमरिया, ग्वालियर में पारा चार डिग्री से कम रहा। नौगांव में 2.4, रायसेन 2.8, उमरिया   3.0, और ग्वालियर में 3.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। फिलहाल उत्तर भारत से आ रही सर्द हवाओं की वजह से मध्य प्रदेश में शीतलहर और कड़ाके की सर्दी पड़ रही है।

प्रदेश के 16 जिलों में शीतलहर का दौर जारी है, इनमें दतिया, नौगांव, खंडवा, खजुराहो, गुना, सतना, सागर, रीवा, ग्वालियर, भोपाल, बैतूल, टीकमगढ़, दमोह, उमरिया, राजगढ़ और रतलाम में शीतलहर से जनजीवन पर असर पड़ रहा है। रायसेन में ठंड का यह आलम रहा कि रात में पत्तों पर ओस की बूंदें जम गईं। भोपाल में रात का न्यूनतम तापमान 5.2 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया।

 मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार अगले दो दिन तक ठंड के तेवर तीखे रहने की उम्मीद है। फरवरी की शुरुआत में इससे थोड़ी राहत मिल सकेगी। एक फरवरी से एक पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत की ओर बढ़ेगा जिससे न्यूनतम और अधिकतम तापमान में बढ़ने की उम्मीद है। पश्चिमी हिमालय में पश्चिमी विक्षोभ बनने के बाद ठंड कम होगी और प्रदेश का तामपान बढ़ेगा जिससे लोगों को ठंड से थोड़ी राहत मिल सकती है।

बढ़ती ठंड की वजह से लोगों से अपील की जा रही है कि ज्यादा समय तक ठंड के संपर्क में रहने से बचें। थ्री लेयर कपड़े पहने, गर्म ऊनी कपड़े पहनें। सिर, माथा, गर्दन,सीने और हाथों को ढंक कर रखें।