स्वास्थ्य विभाग की ओर से आदेश जारी, मास्क न पहनने वाले कर्मचारी/अधिकारी पर होगी कार्यवाही

प्रदेश में तेज़ी से बढ़ रहे कोरोना के मामले को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने अभी अधिकारी, कमर्चारी को दफ्तर में मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है।

Updated: Apr 06, 2021, 02:58 PM IST

स्वास्थ्य विभाग की ओर से आदेश जारी, मास्क न पहनने वाले कर्मचारी/अधिकारी पर होगी कार्यवाही
photo courtesy: patrika

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना बेकाबू हो चला है। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग की ओर से आदेश जारी किया है। अब प्रदेश के सभी शासकीय अथवा अशासकीय कर्मचारी/अधिकारी को दफ्तर में मास्क पहन कर रखना अनिवार्य कर दिया गया है। वहीं सोशल डिस्टेंसिंग का भी ध्यान रखना होगा। कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन करने पर स्वास्थ्य विभाग अनुशासनात्मक कार्यवाही करेगा।

प्रदेशभर में सोमवार को कोरोना के 3722 नए मामले सामनें आये हैं।जिसमे से 18 मरीजों की मौत हो गई है।वहीं इंदौर में सबसे ज्यादा 805 नए मरीज़ सामनें आए हैं।जिसमें से कुल 5870 पॉजिटिव मरीजों का इलाज़ चल है।वहीं 3 लोगो की मौत हो गई है।राजधानी भोपाल में सोमवार को 582 नए संक्रमित मिले,एक्टिव केस की संख्या 4495 हो गई है। टेस्ट कराने आने वाला हर पांचवां व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव मिल रहा है।

जबलपुर में सोमवार को 1812 सैँपल की जांच में 257 संक्रमित मिले। एक मरीज की मौत भी हुई है। एक दिन में अब तक इतने मरीज कभी नहीं आए थे। पहली लहर सितंबर 2020 में संक्रमितों का आंकड़ा 251 था।

वहीं ग्वालियर में सोमवार को 1403 सैंपल की रिपोर्ट में से 160 कोरोना पॉजिटिव आए हैं, जबकि एक की मौत भी हुई है। 50 सैंपल की रिपोर्ट दिल्ली भेजी गई है ताकि कोरोना के नए वायरस स्ट्रेन का पता लगाया जा सके। बीते 6 दिन में 760 के लगभग संक्रमित मिल चुके हैं। एक्टिव केस 992 हो गए हैं।

गौरतलब है कि प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को शाम 6 बजे सड़क पर उतर कर लोगों को मास्क लगाने की अपील की।उन्होंने कहा कि अस्पतालों में मरीज़ बढ़ते जा रहे हैं। इससे पहले की हालात और बिगड़े सभी लोग मास्क लगाए, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामले को ध्यान में रखते हुए आज स्वास्थ्य विभाग की ओर से सभी कर्मचारियों को मास्क पहनने एवं सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के निर्देश दिए गए हैं।