ठेके देकर कमीशन फिक्स करने के लिए कर्ज ले रही शिवराज सरकार: PCC चीफ कमलनाथ का गंभीर आरोप

आज पूरा प्रदेश भ्रष्टाचार में डूबा हुआ है, कर्ज भी किसानों या बेरोजगारों के लिए नहीं लिया जा रहा बल्कि ठेके देने के लिए लिया जा रहा है ताकि अपना-अपना कमीशन फ़िक्स किया जा सके: कमलनाथ

Updated: Sep 13, 2022, 02:04 PM IST

ठेके देकर कमीशन फिक्स करने के लिए कर्ज ले रही शिवराज सरकार: PCC चीफ कमलनाथ का गंभीर आरोप

इंदौर। मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार पिछले दो वर्षों से लगातार कर्ज ले रही है। राज्य सरकार पर सवा तीन लाख करोड़ रुपए का कर्ज है। बावजूद कर्ज लेने से सरकार पीछे नहीं हट रही है। पूर्व सीएम कमलनाथ ने कहा है कि ठेके देकर कमीशन फिक्स करने के लिए सरकार कर्ज ले रही है।

मंगलवार को इंदौर पहुंचे पीसीसी चीफ कमलनाथ ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि, 'आज पूरा प्रदेश भ्रष्टाचार में डूबा हुआ है, कर्ज भी किसानों या बेरोजगारों के लिए नहीं लिया जा रहा है। बल्कि ठेके देने के लिए लिया जा रहा है ताकि अपना-अपना कमीशन फ़िक्स किया जा सके। प्रदेश की जनता बेहाल है और सरकार झूठ कह रही है कि प्रदेश में खुशहाली है।'

यह भी पढ़ें: भारत जोड़ो यात्रा: इस तेज दौड़ती दुनिया में धीमा-धीमा सा एक सफर

कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा और निक्कर विवाद पर प्रतिक्रिया देते हुए पीसीसी चीफ ने कहा कि, 'भारतीय जनता पार्टी निक्कर को अपने आप से क्यों जोड़ लेती है, यह समझ से परे है। दरअसल, राहुल गांधी की भारत जोड़ों यात्रा की सफलता से बीजेपी परेशान है इसलिए टी-शर्ट, जूते तक आ गयी है।'

कमलनाथ ने बीजेपी प्रवक्ता उमेश शर्मा के निधन पर दुख जताते हुए कहा कि वे बीजेपी के निष्ठावान कार्यकर्ता थे। मैं उनके आकस्मिक निधन पर श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। उन्होंने कहा, 'उमेश शर्मा असाधारण कार्यकर्ता थे लेकिन दुख इस बात का है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह इंदौर में ही थे लेकिन वह कार्यक्रम में लगे रहे, तालियां बजती रही, उन्हें अहसास नहीं हुआ कि कार्यक्रम स्थगित कर देना चाहिए, इससे साबित होता है कि भाजपा की सोच क्या है, उनमें कितनी संवेदनशीलता है। हम सभी अलग-अलग विचारधाराओं के हो सकते हैं लेकिन आखिर में हम सभी समाज का हिस्सा हैं।'