ग्वालियर में पत्थर माफिया के हौसले बुलंद, वन अमले को पीटा वर्दी भी फाड़ी

ग्वालियर के अमरधा की पहाड़ियों पर वन अमले ने पत्थर माफिया उत्खनन से रोका तो गुंडों ने वन विभाग की टीम पर लाठी डंडे से हमला कर दिया, आरोपियों ने वन विभाग की टीम के कपड़े फाड़ डाले

Updated: Dec 21, 2021, 06:57 PM IST

ग्वालियर में पत्थर माफिया के हौसले बुलंद, वन अमले को पीटा वर्दी भी फाड़ी
Photo Courtesy: Naidunia

ग्वालियर। पुलिस प्रशासन की लाख कोशिशों के बाद भी जिले में खनन माफिया पर लगाम नहीं लग पा रही है। ग्वालियर में अवैध पत्थर और लाल मिट्टी के खनन का काम फलफूल रहा है। हाल ही में खनन माफिया ने वन विभाग की टीम पर हमला बोल दिया। वन विभाग की टीम गस्ती के दौरान अमरधा की पहाड़ी पर उत्खनन करते लोगों को रोकने गई थी। जैसे ही टीम मौके पर पहुंची माफिया के गुर्गों ने उन पर हमला कर दिया। वन कर्मियों की लाठी-डंडों से जमकर पिटाई की। इतना ही नहीं आरोपियों ने उनकी वर्दी तक फाड़ डाली। किसी कदर वहां से भागकर वनकर्मियों ने अपनी जान बचाई। इस घटना में वन कर्मियों को चोट भी लगी है, घायल अवस्था में अस्पताल भेजा गया है। वहीं घटना की खबर पाकर स्थानीय पुलिस पहुंची, पुलिस आते देख खनन माफिया वहां से सामान समेट कर भाग खड़ा हुआ था।

ग्वालियर जिला प्रशासन, वन विभाग और पुलिस लगातार अवैध खनन रोकने की कोशिशें करता है, लेकिन आरोपी उनकी पकड़ में आने से पहले ही भाग जाते हैं। ग्वालियर की पनिहार थाना पुलिस ने खनन माफिया के लिखाफ मामला दर्ज कर लिया है। अज्ञात लोगों के खिलाफ सरकारी काम में बाधा डालने का मामला दर्ज किया है। वन विभाग इनदिनों वन्य पशुओं की गिनती के काम में जुटा है। इसी के तहत छोड़ा गांव की फारेस्ट चौकी के अतुल सिंह अपनी टीम के दो सदस्यों के साथ अमरधा गांव की पहाड़ी पर गए थे।

 पहाड़ी पर माफिया द्वारा अवैध उत्खनन देख उन्होंने उसे रोकने की कोशिश की। तभी तीनों पर दर्जन  भर लोगों ने हमला बोल दिया। किसी तरह वनकर्मी अपनी जान बचाकर भागे।