सुमावली उपचुनाव 2020: बीजेपी प्रत्याशी के समर्थकों का महिलाओं से अभद्र व्यवहार, वोट देने से रोका

MP By Elections: महिलाओं ने आरोप लगाया कि बीजेपी उम्मीदवार एंदल सिंह कसाना के लोगों ने मारे थप्पड़, गुस्साई महिलाओं ने किया थाने का घेराव

Updated: Nov-03, 2020, 05:38 PM IST

सुमावली उपचुनाव 2020: बीजेपी प्रत्याशी के समर्थकों का महिलाओं से अभद्र व्यवहार, वोट देने से रोका

सुमावली। मध्यप्रदेश की 28 सीटों पर जारी उपचुनाव के बीच मुरैना जिले के सुमावली में विवाद बढ़ता जा रहा है। सुमावली में मतदान केंद्र पर गोली चलने की खबरों के बीच अब महिलाओं से अभद्र व्यवहार करने की खबर है। बताया जा रहा है कि बीजेपी उम्मीदवार एंदल सिंह कसाना के समर्थकों ने महिला मतदाताओं को हाथ पकड़कर मतदान केंद्र से बाहर निकाल दिया। वोट देने से रोके जाने को लेकर गुस्साई महिलाएं सुमावली थाने को घेरे हुए हैं।

 

थाने पर धरना देने पहुंची महिलाओं ने मीडिया को बताया है कि बीजेपी उम्मीदवार एंदल सिंह कसाना के लोग चारपहिया वाहनों से से भरकर पिपरी पुरा मतदान केंद्र पर आए और कहा कि आप कहां आए हो वोट आपका पड़ गया है यहां से लौट जाओ। इस दौरान जब महिलाओं ने विरोध किया तो उन्हें थप्पड़ मारकर, खींचकर मतदान केंद्र से बाहर निकाल दिया गया।' इस अभद्रता से गुस्साई महिलाएं सुमावली थाने के बाहर एकत्रित हो गई हैं। महिलाओं का कहना है कि पुलिस हमें सुरक्षा मुहैया कराए ताकि हम मतदान कर सकें।

 

बता दें कि सुबह ही पिपरी पुरा बूथ से फायरिंग की खबर आई थी। बताया जा रहा है कि वहां फायरिंग मतदान केंद्र से लोगों को भगाने के लिए किया गया था ताकि फर्जी वोट डाला जा सके। हालांकि, घटना की जानकारी मिलने के बाद एसपी और कलेक्टर वहां पहुंचे थे और मतदान को थोड़े देर के लिए रोक दिया गया था। बावजूद इसके कुशवाहा समाज की महिलाओं ने आरोप लगाया है कि मतदान केंद्र को कब्जे में लेकर अब भी वोटिंग जारी है और प्रशासन कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है।

इसके अलावा सुमावली विधानसभा क्षेत्र के पचौरीपुरा और धर्मजीत का पुरा में भी दो पक्ष आपस में भीड़ गए और फायरिंग शुरू कर दी। हालांकि यहां किसी के घायल होने की कोई खबर नहीं है। लेकिन टिकटोली गांव में हुई फायरिंग में एक मासूम घायल हो गई। जिसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मौके पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। सुमावली विधानसभा क्षेत्र से कैबिनेट मंत्री ऐदल सिंह कंषाना और कांग्रेस के अजब सिंह कुशवाह आमने-सामने हैं। 

बता दें कि उपचुनाव वाले सभी इलाकों में सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद बनाए रखने के लिए कुल मिलाकर अर्ध सैनिक बलों की 84 कंपनियों को तैनात किया गया है। वहीं सैफ की 30 कंपनियों को भी अतिरिक्त रूप से तैनात किया गया है। इसके अलावा जिला पुलिस के तकरीबन 10 हजार विशेष पुलिस अधिकारियों की तैनाती की गई है। होमगार्ड के 6 हजार जवानों को भी ड्यूटी पर लगाया गया है। बावजूद इसके विधानसभा क्षेत्रों से लगातार दबंगों के द्वारा मतदान प्रक्रिया को प्रभावित करने की खबरें आ रही है।