एक मंत्री हैं जो फिल्मों पर बयान देते रहते हैं, PM मोदी की हिदायत से बैकफुट पर आए बयानवीर गृहमंत्री

MP के गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा स्वयंभू फिल्म समीक्षक बने हुए थे, अब पीएम मोदी की हिदायत के बाद उन्होंने कहा है कि उनका हर शब्द हमारे लिए शिरोधार्य है।

Updated: Jan 18, 2023, 04:10 PM IST

एक मंत्री हैं जो फिल्मों पर बयान देते रहते हैं, PM मोदी की हिदायत से बैकफुट पर आए बयानवीर गृहमंत्री

भोपाल। लंबे अरसे से स्वयंभू सेंसर बोर्ड बन बैठे मध्य प्रदेश के गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा को पीएम मोदी ने हिदायत दी है। प्रधानमंत्री ने इशारों में मिश्रा को फटकारते हुए कहा कि क्या जरूरत है हर फिल्म पर बयान देने की। पीएम मोदी के इस बयान के बाद फिल्म देखकर भावनाएं आहत कराने वाले बीजेपी मंत्री मिश्रा बैकफुट पर आ गए हैं। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी का हर शब्द हमारे लिए शिरोधार्य है।

बुधवार को मीडिया ने नरोत्तम मिश्रा से इस संबंध में सवाल किया तो उन्होंने कहा, 'पीएम मोदी ने किसी का नाम नहीं लिया। उनका हर वाक्य, हर शब्द हमारे लिए शिरोधार्य है और इसलिए सारे कार्यकर्ता वहां से प्रेरणा लेकर आए हैं। हमारे जो आचरण और व्यवहार हमेशा उनके मार्गदर्शन और उनकी ऊर्जा और मार्गदर्शन से भरते हैं और आगे भी भरते रहेंगे।'

दरअसल, नरोत्तम मिश्रा पिछले कुछ महीनों से अघोषित रूप से फिल्म समीक्षक बने हुए थे। वे कभी किसी फिल्म पर, कभी कोई विज्ञापन पर तो कभी एक्ट्रेस के अंगवस्त्रों पर सवाल उठाकर सुर्खियों में बने रहते थे। लेकिन मंगलावर को भाजपा कार्यसमिति की बैठक में स्वयं प्रधानमंत्री ने कहा कि भाजपा के नेता ऐसी हरकतों से बाज आएं।

पीएम मोदी ने कहा कि हम प्रत्येक दिन काम करते हैं, और इसी बीच कुछ लोग किसी फिल्म पर बयान दे देते हैं। जिसके बाद सारा दिन टीवी और मीडिया में वो ही चलता रहता है। उन्हें लगता है वे नेता बन रहे हैं, पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी उन्हें फोन किया, लेकिन वे मानते नहीं हैं। क्या जरूरत है फिल्मों पर बयान देने की? ऐसे बेवजह के बयानों से हमें बचना चाहिए।'

यह भी पढ़ें: जो विकास यात्रा हमने 1970 में शुरू की थी उसे कायम रखें, राघौगढ़ के मतदाताओं से दिग्विजय सिंह की भावनात्मक अपील

दरअसल, हाल ही में मध्य प्रदेश के गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने ने शाहरुख खान की आने वाली फिल्म पठान पर कई बयान दिए थे। उन्होंने फिल्म के एक गाने में एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण के अंगवस्त्र के रंग को लेकर भी सवाल खड़े किए थे। इसके पहले भी वे बॉलीवुड को लेकर अनावश्यक रूप से विवाद पैदा कर रहे थे। लेकिन केंद्रीय नेतृत्व ने उन्हें स्पष्ट रूप से ऐसा नहीं करने की हिदायत दी है।

मध्य प्रदेश के सियासी गलियारे में अब प्रधानमंत्री के इस बयान को चटकारे लेकर एक-दूसरे को बताया जा रहा है। प्रधानमंत्री द्वारा सीधे गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा की तरफ इशारा करने से उनकी राजनीतिक हैसियत भी पार्टी में कमजोर हुई है। मिश्रा की इन हरकतों को लेकर फिल्म उद्योग से जुड़े बड़े लोगों ने बीजेपी आलाकमान तक शिकायत की थी।

यह भी पढ़ें: बॉलीवुड बॉयकॉट ट्रेंड अब रुकना चाहिए, पीएम मोदी से बात करें: सीएम योगी से बोले अभिनेता सुनील शेट्टी

मेगास्टार अमिताभ बच्चन ने भी कोलकाता में एक कार्यक्रम के दौरान बॉयकॉट बॉलीवुड मुहिम के खिलाफ बयान दिया था। इसी तरह सुनील शेट्टी ने लखनऊ में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने से यह मसला उठाते हुए कहा था कि वह फिल्म जगत की इस चिंता से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अवगत कराएं। ऐसे में अब स्वयं पीएम मोदी ने सामने आकर स्पष्ट रूप से उन्हें फिल्म समीक्षा न करने को कहा है।