सरकारी नौकरी का झांसा देकर युवक को ठगने वाला नकली इनकम टैक्स कमिश्नर गिरफ्तार

बेरोजगारों को सरकारी नौकरी दिलाने का सब्ज बाग दिखाने वाले फर्जी इनकम टैक्स कमिश्नर को उज्जैन पुलिस ने गिरफ्तार किया, उज्जैन के युवक से नौकरी के नाम पर लिए थे एक लाख 10 हजार रुपए, आयकर आयुक्त इंदौर की प्लेट लगी इनोवा कार भी जब्त

Updated: Jun 23, 2021, 02:50 PM IST

सरकारी नौकरी का झांसा देकर युवक को ठगने वाला नकली इनकम टैक्स कमिश्नर गिरफ्तार
Photo Courtesy: mp breaking

उज्जैन। बेरोजगार को सरकारी नौकरी दिलाने का झांसा देकर उनसे फैसे ऐंठने वाले फर्जी इनकम टैक्स कमिश्नर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी अपना रसूख दिखाने के लिए आयकर आयुक्त इंदौर की प्लेट लगी इनोवा कार में सफर करता था। वह सरकारी अफसर बनकर लोगों को सरकारी नौकरी दिलाने का झांसा देता था और जो उसकी चिकनी चुपड़ी बातों में आ जाता उससे रुपए ऐंठ लेता था।

उज्जैन के केसर बाग कॉलोनी निवासी सत्यनारायण सोलंकी को आरोपी दीपक ने झांसा दिया था कि वह उसकी नौकरी आयकर  दफ्तर में लगवा देगा, उसने कहा था कि उसे जूनियर असिस्टेंट की पोस्ट पर भर्ती करवा देगा। आरोपी ने दो लाख रुपए में काम करवाने की बात कही थी। जिसकी पहली किस्त के तौर पर वह एक लाख 10 हजार रुपए ले चुका था। काफी वक्त बीत जाने के बाद आरोपी ने फरियादी की नौकरी नहीं लगवाई, औऱ तो और उसने उसका फोन तक उठाना बंद कर दिया। तब फरियादी सत्यनारायण ने ठगी की शिकायत माधवनगर थाने में की। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी को इंदौर से गिरफ्तार कर लिया है।

आरोपी दीपक बैरवा ने अपनी गाड़ी में आयकर कमिश्नर की प्लेट भी लगवा रखी थी। पुलिस ने उसकी उस इनोवा कार को भी जब्त किया है। पुलिस आरोपी से पूछताछ में जुटी है। पुलिस को मिली जानकारी के अनुसार दीपक बैरवा प्रॉपर्टी डीलर के तौर पर काम करता है। पुलिस को आशंका है कि दीपक बैरवा ने फरियादी सत्यनारायण जैसे कई लोगों के साथ धोखा किया होगा। फिलहाल मामले की जांच जारी है।