मछली के पसंदीदा पीस के लिए शादी के भोज में खूनी जंग, जमकर चले लाठी-डंडे, मारपीट में 11 घायल

बिहार के गोपालगंज जिले की घटना, मछली के मुंड के लिए हुआ विवाद, जिले में पिछले महीने ही मुर्गा-लिट्टी के लिए हुए था मर्डर, जांच में जुटी पुलिस

Updated: Jun 13, 2021, 03:42 PM IST

मछली के पसंदीदा पीस के लिए शादी के भोज में खूनी जंग, जमकर चले लाठी-डंडे, मारपीट में 11 घायल
Photo Courtesy: Aaj Tak

गोपालगंज। बिहार के गोपालगंज जिले में एक शादी में खाने को लेकर हुए विवाद के दौरान जमकर हिंसक झड़प हुई। मारपीट की इस घटना में करीब 11 लोग घायल हो गए। बताया जा रहा है कि विवाद का कारण यह है कि खाने के दौरान एक व्यक्ति को मछली की मुंड नहीं मिल पाई थी। पुलिस ने इस मामले में दोनों पक्षों का अलग-अलग बयान दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक मामला गोपालगंज जिले के भोरे थाना अंतर्गत सिसई टोला भटवलिया गांव का है। गांव में गुरुवार को धन्नु गोंड के यहां उनकी लड़की की बारात आयी थी। धन्नू ने भोज के लिए मछली और चावल का प्रबंध किया था। भोज के दौरान मछली के पीस को लेकर ऐसा विवाद हुआ कि लोग मरने-मारने पर उतारू हो गए। देखते ही देखते दोनों पक्षों से ग्यारह लोग घायल हो गए, जिन्हें इलाज के लिए भोरे रेफरल अस्पताल और गोपालगंज सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। 

सदर अस्पताल में इलाज कराने पहुंचे घायल सुदामा गोंड के अनुसार उनके बेटे राजू गोंड और मुन्ना गोंड भोज में मछली परोस रहे थे। इसी बीच पड़ोसी अजय गोंड और अभय गोंड अपने जानने वाले मेहमानों को लेकर आए और उन्हें खिलाने के लिए बैठा दिया। खाने के लिए बैठे लोगों को पहले राउंड में दो-दो पीस मछली दिया गया, जिसके बाद वे मछली का मुड़ा और ज्यादा पीस देने की मांग करने लगे।

यह भी पढ़ें: बारात में मुर्गा के साथ लिट्टी नहीं मिलने पर फायरिंग, एक की मौत कई घायल

मछली के मुड़े नहीं दिये जाने पर परोसने वाले राजू गोंड व मुन्ना गोंड की पिटाई की जाने लगी। इस बीच छठू गोंड समेत अन्य लोग पहुंचे, तबतक दोनों पक्ष के बीच कुर्सियां चलने लगी।उधर लाठी डंडा और लोहे का रॉड लेकर अजय गोंड, राजा गोंड सहित पांच लोग आये और सुदामा गोंड, उनके पुत्र मुन्ना गोंड समेत अन्य को घायल कर दिया। मारपीट के बाद आसपास के लोगों ने एक पक्ष के घायलों को रेफरल अस्पताल भोरे व दूसरे पक्ष के घायलों को सदर अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया।

पिछले महीने लिट्टी-मुर्गा के लिए हुआ था मर्डर

गोपालगंज से आए दिन इस तरह की घटनाएं सामने आ रही है। पिछले महीने ही यहां बारात में लिट्टी-मुर्गा के लिए मर्डर हुई थी। दरअसल, उचकागांव थाने के नरकटिया गांव में पिछले महीने 8 तारीख को बारात आई थी। इस दौरान मुर्गे के पीस के साथ लिट्टी नहीं परोसने पर गोली चल गयी थी। गोलीबारी की इस घटना में राजेंद्र सिंह की मौत हुई थी जबकि तीन अन्य घायल हुए थे।