Bhupesh Baghel: बिहार में डबल इंजन का ठगबंधन है, गठबंधन नहीं

छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने पीएम मोदी और नीतीश कुमार पर साधा निशाना, कहा कांग्रेस ने 70 साल में कुछ नहीं किया तो, जो रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट, खदानें, स्टील प्लांट आप बेच रहे हैं, वो किसने बनवाए थे

Updated: Nov 04, 2020, 07:12 PM IST

Bhupesh Baghel: बिहार में डबल इंजन का ठगबंधन है, गठबंधन नहीं
Photo Courtesy: Twitter

पटना। बिहार में बीजेपी-जेडीयू का गठबंधन नहीं बल्कि "डबल इंजन" का "ठगबंधन" है, जिसके दोनों इंजन गाड़ी को अलग-अलग दिशाओं में खींच रहे हैं और तीसरा इंजन बीच में घुस रहा है - प्रधानमंत्री मोदी के डबल इंजन सरकार के नारे का ये करारा जवाब दिया है छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने। दो दिन के बिहार दौरे पर आए बघेल ने बुधवार को लौकहा विधानसभा क्षेत्र में  महागठबंधन के उम्मीदवार भारत भूषण मंडल के समर्थन में चुनावी सभा को संबोधित किया।

भूपेश बघेल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस आरोप का भी मुंहतोड़ जवाब दिया कि 70 साल में कांग्रेस ने देश के लिए कुछ नहीं किया। भूपेश बघेल ने कहा कि ऐसे आरोप लगाने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस बात का जवाब दें कि देश की जिन संपत्तियों को प्रधानमंत्री जी बेचते रहते हैं, उन्हें किसने बनाया था। भूपेश बघेल ने चुटकी लेते हुए कहा, "मैं ये पूछना चाहता हूँ जो ये रेलवे स्टेशन को बेच रहे हो, ये क्या आपके "दादा जी" ने बनाया था? जो ये हवाई अड्डा अडानी को बेच दिए, ये क्या आपके "नाना जी" ने बनाये थे? मैं किसानों से हाथ जोड़कर निवेदन करना चाहता हूँ, आप अपनी जमीन बचा लीजिये।"

 

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने खनिज तेल और लोहे की खदानें और स्टील प्लांट बेचने पर भी सवाल खड़े किए। उन्होंने किसानों को सचेत करते हुए कहा कि अब मोदी सरकार की नज़र किसानों की जमीन पर है, जिसे बचाना ज़रूरी है। भूपेश बघेल ने ये दावा भी किया कि बिहार में पहले दो चरण के मतदान में महागठबंधन को जनता का आशीर्वाद मिल चुका है, तीसरा चरण में जनता बहुमत को प्रचंड बहुमत बनाने के लिए वोट डालेगी। गौरतलब है कि बिहार में विधानसभा चुनाव के लिए दो चरणों का मतदान हो चुका है। तीसरे चरण की वोटिंग 7 नवंबर को होगी। नतीजों का एलान 10 नवंबर को वोटों की गिनती के बाद होगा।