कांग्रेस ने अनुशासनात्मक कार्रवाई समिति का किया पुनर्गठन, एके एंटनी को बनाया अध्यक्ष

कांग्रेस ने इस समिति से गुलाब नबी आजाद को शामिल नहीं किया है, इसके पीछे जम्मू कश्मीर में गुलाम नबी आजाद के समर्थक नेताओं के इस्तीफे को बड़ा कारण माना जा रहा है

Publish: Nov 19, 2021, 11:34 AM IST

कांग्रेस ने अनुशासनात्मक कार्रवाई समिति का किया पुनर्गठन, एके एंटनी को बनाया अध्यक्ष

नई दिल्ली। कांग्रेस ने अपनी अनुशासनात्मक कार्रवाई समिति का पुनर्गठन किया है। देश के पूर्व रक्षा मंत्री एके एंटनी को कांग्रेस ने अनुशासन कार्रवाई समिति का अध्यक्ष बनाया है। पांच सदस्यीय समिति में कांग्रेस पार्टी ने पूर्व केंद्रीय मंत्री गुलाम नबी आजाद को जगह नहीं दी है। 

कांग्रेस की नई अनुशासनात्मक कार्रवाई समिति में अंबिका सोनी, जय प्रकाश अग्रवाल और जी परमेश्वर को सदस्य बनाया गया है। वहीं एनसीपी छोड़ कांग्रेस में शामिल होने वाले नेता तारिक अनवर भी कांग्रेस की नई समिति के सदस्य के तौर पर चुने गए हैं। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गुलाम नबी आजाद को समिति में जगह नहीं देने के पीछे हाल ही में जम्मू कश्मीर के कांग्रेस नेताओं के अपने पद से इस्तीफा दिए जाने को बड़ा कारण माना जा रहा है। अपने पद से इस्तीफा देने वाले दो दर्जन के करीब नेता गुलाम नबी आजाद के समर्थक माने जाते हैं। यह सभी जम्मू कश्मीर कांग्रेस के नेतृत्व में परिवर्तन की मांग कर रहे हैं।

हालांकि नई समिति में कांग्रेस पार्टी ने गुलाम नबी आजाद के अलावा दो अन्य बड़े नेताओं को जगह नहीं दी है। इन नेताओं में गुलाब नबी आजाद के अलावा पूर्व गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे और अरुणाचल प्रदेश के पूर्व सीएम मुकुट मिथि का नाम शामिल है। 

दूसरी तरफ़ इस समय देश भर में कांग्रेस पार्टी का जन जागरण अभियान जारी है। अपने इस अभियान के जरिए कांग्रेस पार्टी आम जनता को लगातार बढ़ती महंगाई और मोदी सरकार की विफल नीतियों के प्रति जागरूक कर रही है। इस अभियान को सफल बनाने के लिए कांग्रेस के तमाम बड़े नेता पद यात्रा कर रहे हैं।