दिल्ली पुलिस की कार्रवाई के खिलाफ देशभर में सड़कों पर उतरी कांग्रेस, चंडीगढ़ में पुलिस ने चलाई वॉटर कैनन

दिल्ली पुलिस द्वारा कांग्रेस नेताओं के साथ कथित बदसलूकी का मामला, देशभर में कांग्रेस का व्यापक विरोध प्रदर्शन, राजभवनों का किया घेराव

Updated: Jun 16, 2022, 02:40 PM IST

दिल्ली पुलिस की कार्रवाई के खिलाफ देशभर में सड़कों पर उतरी कांग्रेस, चंडीगढ़ में पुलिस ने चलाई वॉटर कैनन

नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस द्वारा बुधवार को कांग्रेस नेताओं के साथ बदसलूकी के खिलाफ आज देशभर में कांग्रेस कार्यकर्ता सड़कों पर उतर आए हैं। कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता राज्यों में राजभवन के सामने विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। कांग्रेस सांसदों का एक प्रतिनिधिमंडल इस मामले में लोकसभा स्पीकर ओम बिरला से मुलाकात कर कड़े शब्दों में नाराजगी भी व्यक्त की है।

देश की राजधानी दिल्ली में कांग्रेस प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल के नेतृत्व में सैंकड़ों की संख्या में कार्यकर्ता सड़कों पर उतरे। इस दौरान संगठन महासचिव मुकुल वासनिक, दिल्ली के पूर्व प्रभारी अजय माकन और प्रवक्ता पवन खेड़ा भी मौजूद थे। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार, केंद्रीय एजेंसियों और दिल्ली पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। 

कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में कांग्रेस अध्यक्ष डीके शिवकुमार के नेतृत्व में हजारों कार्यकर्ताओं ने ED के विरोध में नारेबाजी और प्रदर्शन किया। कांग्रेस कार्यकर्ता दिल्ली पुलिस के खिलाफ ज्ञापन और शिकायत पत्र देने के लिए पार्टी कार्यालय से राजभवन तक पैदल मार्च करते पहुंचे। इस दौरान डीके शिवकुमार ने कहा कि ये प्रदर्शन हमारा अधिकार है, हम न्याय के लिए लड़ेंगे। ED किसी BJP नेता के मामले की जांच नहीं कर रही सिर्फ कांग्रेस के लोगों को परेशान कर रही है।

चंडीगढ़ में पंजाब कांग्रेस जोरदार प्रदर्शन कर रही है। यहां प्रदेश अध्यक्ष राजा बरार के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ता गवर्नर हाउस की तरफ मार्च करते हुए बड़े तो रास्ते में उन्हें चंडीगढ़ पुलिस ने रोक लिया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बैरिकेडिंग तोड़ आगे जाने की कोशिश की, इस दौरान पुलिस और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच धक्का मुक्की हुई और पुलिस ने वॉटर कैनन का प्रयोग किया। 

पंजाब यूथ कांग्रेस अध्यक्ष बरिंदर ढिल्लो ने कहा कि बेवजह ईडी दफ्तर में राहुल गांधी को घंटों बिठाकर रखा जा रहा है। जबकि सब कुछ कागजों में लिखा हुआ है। केंद्र की मोदी सरकार और भारतीय जनता पार्टी राजनीतिक प्रतिशोध के तहत इस तरह की कार्रवाई कर रही है। जिसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है।

उधर उत्तर प्रदेश में राजभवन घेराव से पहले ही कांग्रेस के राज्यसभा सांसद प्रमोद तिवारी, पूर्व मंत्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी जी समेत कांग्रेस के तमाम वरिष्ठ नेताओं को पुलिस ने हाउस अरेस्ट कर लिया। यूपी कांग्रेस ने इसपर तंज कसते हुए लिखा कि, दामनकारियों के सूखे प्राण, सुनकर राजभवन घेराव का ऐलान।' 

बिहार की राजधानी पटना में कांग्रेस विधायक और कार्यकर्ता राजभवन के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं। इससे पहले वे राजधानी में स्थित ED कार्यालय के बाहर भी धरने पर बैठे थे। 

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा ने कहा कि पूरे देश में आजादी खतरे में है। नरेंद्र मोदी सरकार की मनमानी चरम पर है। मोदी सरकार दमन करने में लगी हुई है। कांग्रेस विधायक दल के नेता अजीत शर्मा ने कहा कि मोदी सरकार ED जैसी संस्थाओं का उपयोग अपनी ताकत दिखाने में कर रही है। इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।