स्टार कछुओं की तस्करी की कोशिश नाकाम, चेन्नई एयरपोर्ट पर कस्टम विभाग ने पकड़े 1300 से ज्यादा जिंदा कछुए

लुप्तप्राय कछुओं की विदेशों में है भारी डिमांड, भारत में 50 हजार में बिकने वाला कछुआ विदेशों में करीब 3.5 लाख रुपए तक में बेचा जाता है, चेन्नई से मलेशिया ले जाई जा रही थी कछुओं की खेप

Updated: Jan 06, 2022, 12:00 PM IST

स्टार कछुओं की तस्करी की कोशिश नाकाम, चेन्नई एयरपोर्ट पर कस्टम विभाग ने पकड़े 1300 से ज्यादा जिंदा कछुए
Photo Courtesy: lokmat

चेन्नई। तमिलनाडु के चेन्नई एयरपोर्ट पर स्टार कछुओं की बड़ी खेप पकड़ाई है। यह कछुए एयर कार्गो सीमा शुल्क विभाग ने पकड़े हैं। कस्टम ऑफिसर्स ने 1364 जिंदा स्टार कछुओं को बरामद किया है। तस्कर इन  कछुओं को मलेशिया ले जाने की फिराक में थे, जिसे ऑफिसर्स ने नाकाम कर दिया। कस्टम विभाग को पुख्ता खबर मिली थी, जिस पर एक्शन लेते हुए यह कार्रवाई की गई है। बताया जा रहा है कि 13 में से 7 बाक्स में 1364 स्टार कछुए थे। जिनका वजन करीब 230 किलोग्राम था।

 

विदेशों में भारतीय स्टार कछुओं की भारी डिमांड है। कहा जाता है कि विदेशों में एक कछुए की कीमत 3 से साढ़े तीन लाख रुपए तक होती है। जबकि भारत में ये महज 50 हजार रुपए में मिलते हैं। कस्टम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार इन कछुओं को राज्य वनविभाग के सुपुर्द कर दिया गया है। दरअसल वन्य जीव संरक्षण अधिनियम 1972 के तहत कछुओं की 4 प्रजातियों को लुप्तप्राय सूची रखा गया है। स्टार कछुए इन्हीं में से एक है।

और पढ़ें: सूरत की प्रिंटिंग मिल में गैस रिसने से आधा दर्जन कर्मचारियों की मौत, 25 गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती

बेशकीमती स्टार कछुए भारत के कम ही इलाकों में पाए जाते हैं, ये खास तौर पर तमिलनाडु, ओडिशा, कर्नाटक, गुजरात और आंध्र प्रदेश में मिलते हैं। विश्व में इनकी काफी डिमांड की वजह से इनकी तस्करी बढ़ी है। लोग पैसों के लालच में इन्हें गैरकानूनी तरीके से विदेशों में  बेचने के लिए ले जाते हैं। जिसकी वजह से इनकी संख्या तेजी से कम हो रही है। भारत के अलावा ये स्टार कछुए पड़ोसी देशों पाकिस्तान और श्रीलंका में मिलते हैं।