कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक आज, अध्यक्ष के चुनाव पर फैसला संभव, विधानसभा चुनाव की भी बनेगी रणनीति

शनिवार सुबह 10 बजे से शुरू होगी कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक, G23 के नेता भी होंगे शामिल, राष्ट्रीय स्तर पर सदस्यता अभियान चलाने को लेकर भी हो सकता है फैसला

Updated: Oct 16, 2021, 01:12 PM IST

कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक आज, अध्यक्ष के चुनाव पर फैसला संभव, विधानसभा चुनाव की भी बनेगी रणनीति
Photo Courtesy: NDTV

नई दिल्ली। देश के प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस कार्यसमिति (CWC) की आज अहम बैठक होने वाली है। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के नेतृत्व में सुबह 10 बजे बैठक की शुरुआत होगी। इस बैठक में G23 समूह के नेता भी शामिल होंगे। सीडब्ल्यूसी की बैठक में कांग्रेस के नए अध्यक्ष की चुनाव को लेकर बातचीत होने की संभावना है।

पार्टी सूत्रों के मुताबिक बैठक के दौरान आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर कांग्रेस की रणनीति पर भी चर्चा होगी। राष्ट्रीय स्तर पर पार्टी को एकजुट करने की दिशा में भी इस बैठक को बेहद अहम माना जा रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बैठक में संगठनात्मक चुनावों को हरी झंडी मिल सकती है। इसमें पूर्णकालिक राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव भी शामिल है। हालांकि, माना जा रहा है कि राष्ट्रीय स्तर पर सदस्यता अभियान चलाने के बाद ही अध्यक्ष पद का चुनाव होगा। ऐसे में जबतक सदस्यता अभियान पूरा नहीं हो जाता सोनिया गांधी ही अंतरिम अध्यक्ष बनी रहेंगी।

यह भी पढ़ें: कांग्रेस MLA की अनोखी पहल, अब एक रुपए में मिलेगा भरपेट भोजन, आज से हाईटेक रसोई की शुरुआत

दरअसल, कांग्रेस में लंबे समय से आंतरिक चुनावों की मांग हो रही है। G23 के नेता गुलाम नबी आजाद और आनंद शर्मा ने सोनिया गांधी को पत्र लिखकर भी आंतरिक चुनाव की आवश्यकता बताई थी। इसके बाद जून में कार्यसमिति की बैठक भी संपन्न हुई थी। हालांकि, उस दौरान देश कोरोना से जूझ रहा था। इस दौरान सर्वसम्मति से फैसला लिया गया था कि पार्टी को अभी यथासंभव जरूरतमंदों को मदद करने पर फोकस करना चाहिए।

सीडब्ल्यूसी की यह बैठक ऐसे समय में हो रही है जब अगले साल उत्तर प्रदेश, पंजाब समेत कई राज्यों में  विधानसभा चुनाव होने हैं। कांग्रेस के एक धड़े का मानना है कि फिलहाल पार्टी का फोकस अध्यक्ष चुनाव के बजाए विधानसभा चुनाव होना चाहिए। ऐसे में मौजूदा राजनीतिक हालात के साथ ही लखीमपुर खीरी नरसंहार, किसान आंदोलन, बेरोजगारी तथा बढ़ती महंगाई पर चर्चा हो सकती है। इस दौरान कुछ प्रस्ताव भी पारित किए जाएंगे।