दिल्ली की तरफ मार्च कर रहे थे किसान, हरियाणा पुलिस ने छोड़े आंसू गैस के गोले

पुलिस और किसानों के बीच झड़प रेवाड़ी अलवर सीमा पर हुई है

Updated: Jan 04, 2021, 02:49 PM IST

दिल्ली की तरफ मार्च कर रहे थे किसान, हरियाणा पुलिस ने छोड़े आंसू गैस के गोले

गुरुग्राम। कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलनरत किसानों और हरियाणा पुलिस में रविवार शाम झड़प हो गई। हरियाणा से किसानों का एक जत्था दिल्ली की ओर मुख्य आंदोलन में शामिल होने के लिए मार्च कर रहा था, लेकिन हरियाणा पुलिस ने किसानों को रोक दिया। किसान हर हाल में आगे बढ़ना चाहते थे, लिहाज़ा हरियाणा पुलिस ने बर्बरतापूर्ण रुख अख्तियार करते हुए किसानों के ऊपर आंसू गैस के गोले छोड़ना शुरू कर दिया। 

दरअसल किसान दिल्ली की ओर कूच करने जा रहे थे। लेकिन रेवाड़ी अलवर सीमा पर धारूहेड़ा के पास किसानों को रोकने के लिए हरियाणा पुलिस ने बैरियर लगा दिए थे। इस पर गुस्साए किसानों ने पुलिस के बैरिकेड्स हटाने की कोशिश की। जिसके बाद पुलिस ने किसानों के ऊपर कार्रवाई करते हुए आंसू गैस के गोले दागने शुरू कर दिए। घटना के बाद से ही इलाके में तनावपूर्ण माहौल है। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलिस ने किसानों को किसी स्थानीय ओवर ब्रिज के पास रोक दिया है। रेवाड़ी पुलिस प्रमुख अभिषेक जोरवाल ने न्यूज़ एजेंसी पीटीआई से कहा कि हमने उन्हें (किसानों को) मसानी में रोक दिया। 

आज केंद्र सरकार और किसान नेताओं के बीच बातचीत भी होनी है। केंद्र सरकार कृषि कानूनों रद्द करने के मूड में नज़र नहीं आ रही है। तो वहीं किसान भी कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग पर डटे हुए हैं। अगर केंद्र सरकार किसानों की मांग को नहीं मानती है, तो ऐसी स्थिति में किसान विभिन्न राज्यों में 23 जनवरी को मार्च निकालेंगे। और इसके साथ ही 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के अवसर पर परेड भी निकालने का ऐलान किसान संगठनों ने किया है।