दिल्ली और मुंबई में सार्वजनिक होली पर लगी रोक, कोरोना के कारण लिया गया फैसला

उत्तर प्रदेश सरकार ने होली को लेकर खास गाइडलाइन जारी की है, इसके तहत दस वर्ष की उम्र से कम बच्चे और 60 वर्ष से अधिक के बुजुर्गों को सार्वजनिक समारोह में शामिल न होने के लिए कहा है

Publish: Mar 24, 2021, 08:41 AM IST

दिल्ली और मुंबई में सार्वजनिक होली पर लगी रोक, कोरोना के कारण लिया गया फैसला

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली और मायानगरी मुंबई के वासी इस मर्तबा धूमधाम से होली नहीं मना पाएंगे। दिल्ली सरकार ने राजधानी में सार्वजनिक स्थानों पर होली समारोह आयोजित किए जाने पर रोक लगा दी है। बीएमसी ने भी मुंबई वासियों को होली मनाने से प्रतिबंधित कर दिया है। मुंबई में सार्वजनिक और निजी स्थानों पर होली मनाने से मनाही होगी। 

दिल्ली सरकार ने होली के साथ साथ शब ए बारात और नवरात्रि के दौरान भी सार्वजनिक आयोजनों पर रोक लगा दी है। वहीं मुंबई में होली के साथ साथ रंगपंचमी पर रोक रहेगी। दिल्ली और मुंबई के अलावा उत्तर प्रदेश सरकार ने भी त्योहार के सीज़न पर दिशानिर्देश जारी किए हैं। यूपी में दस वर्ष की उम्र से कम बच्चे और 60 वर्ष से अधिक के बुजुर्गों को सार्वजनिक समारोह में शामिल न होने के लिए कहा गया है। हालांकि यूपी में अब तक त्योहारों पर सार्वजनिक कार्यक्रमों पर रोक नहीं लगाई गई है। लेकिन किसी भी सार्वजनिक आयोजन से पहले प्रशासन की अनुमति अनिवार्य कर दी गई है। 

यह सारी कवायद देश भर में आए कोरोना की दूसरी लहर को देखते हुए शुरू की गई। कोरोना के संकट काल के ही बीच आगामी दिनों में त्योहारों का मौसम आने वाले है। लिहाज़ा केंंद्र सरकार ने सभी राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों को त्योहारों के सीज़न में कोरोना को नियंत्रित करने के लिए ज़रूरी कदम उठाने के लिए कहा है। 

दिल्ली और मुंबई के साथ साथ ओडिशा में भी होली के सार्वजनिक आयोजन पर रोक लगा दी गई है। लोगों को होली घर में ही मनाने के लिए कहा गया है। हालांकि लोग उस दिन मंदिर जा पाएंगे, लेकिन इस दौरान उन्हें कोरोना की गाइडलाइन का सख्ती से पालन करना होगा। गुजरात सरकार ने होली के सार्वजनिक आयोजन पर रोक लगाई है लेकिन एक सीमित संख्या में होलिका दहन के आयोजन की इजाज़त होगी।